Breaking News
  • उत्तराखंड: चीन सीमा की सामरिक महत्व वाली चार सड़कों के निर्माण को मंजूरी, निर्माण कार्यों में आएगी तेजी
  • उत्तराखंड: परिवहन चालकों-परिचालकों को राहत, छह महीने का वाहन टैक्स हो सकता है माफ
  • देहरादून के होटलों में चीन के नागरिकों पर बैन, चीनी उत्पादों और खाद्य वस्तुओं पर भी लगाया प्रतिबंध
  • देहरादून: अब छह दिन खुलेंगे बैंक, सरकारी व निजी कार्यालय, सातों दिन खुलेगा बाजार
  • चारधाम यात्रा 2020: एक जुलाई से उत्तराखंड के तीर्थयात्रियों के लिए शुरू होगी यात्रा, बाहर के श्रद्धालु नहीं कर पाएंगे दर्शन

उत्तराखंड के जंगलों में भीषण आग लगने की फेक न्यूज सोशल मीडिया पर हुई खूब वायरल

देहरादून, न्यूज़ आई। कोरोना संकट के बीच उत्तराखंड के जंगलों में लगी भीषण आग की खबरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। कई लोगों ने इसकी फोटो अपने ट्वीटर और फेसबुक एकाउंट पर शेयर की हैं। इसमें कहा जा रहा है कि आग लगने के कारण उत्तराखंड जंगल की 71 हेक्टेयर जमीन पूरी तरह से बर्बाद हो गई है।
यह भी दावा किया जा रहा है कि इस आग से दो लोगों की जान गई है और कई जानवरों की मौत हुई है। लोग सोशल मीडिया पर तस्वीरें पोस्ट कर दावा कर रहे हैं कि पिछले चार दिनों से उत्तराखंड के जंगल आग में जल रहे हैं, लेकिन कोई इसकी सुध लेने वाला नहीं है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी ऐसी खबरें पूरी तरह से झूठी हैं। इसके बाद सोशल मीडिया पर ही जबरदस्त तरीके से ऐसी फेक न्यूज का खंडन शुरू हो गया। खुद वन मंत्री हरक सिंह भी मैदान में उतर गए। उन्होंने साफ किया कि सोशल मीडिया पर उत्तराखंड के नाम से जो जंगल की आग की फोटो-वीडियो वायरल हो रहे हैं, उनमें कुछ पुराने और कुछ विदेशों के हैं।