Breaking News
  • उत्तराखंड: चीन सीमा की सामरिक महत्व वाली चार सड़कों के निर्माण को मंजूरी, निर्माण कार्यों में आएगी तेजी
  • उत्तराखंड: परिवहन चालकों-परिचालकों को राहत, छह महीने का वाहन टैक्स हो सकता है माफ
  • देहरादून के होटलों में चीन के नागरिकों पर बैन, चीनी उत्पादों और खाद्य वस्तुओं पर भी लगाया प्रतिबंध
  • देहरादून: अब छह दिन खुलेंगे बैंक, सरकारी व निजी कार्यालय, सातों दिन खुलेगा बाजार
  • चारधाम यात्रा 2020: एक जुलाई से उत्तराखंड के तीर्थयात्रियों के लिए शुरू होगी यात्रा, बाहर के श्रद्धालु नहीं कर पाएंगे दर्शन

कुमार विश्वास ने भारत-चीन के बीच तनातनी पर मीडिया को दी नसीहत

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच एक बार फिर से तनातनी शुरू हो गई है. ताजा विवाद लद्दाख को लेकर है. यहां के दो इलाकों में 9 और 10 मई से ही सीमा के दोनों ओर हजार से ज्यादा सैनिक आमने-सामने आ चुके हैं. हालांकि, दोनों देश राजनयिक स्तर पर इस विवाद को सुलझाने में जुटे हुए हैं. इस मामले पर मीडिया से अनुरोध करते हुए मशहूर कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, ‘भारतीय चैनलों और “की-बोर्ड क्रांतिकारियों” से सादर अनुरोध है कि दुनिया के सबसे परम्परागत कमीने देश चीन के साथ हमारे देश के संघर्ष को “TRP जैनरेटिंग इवेंट” न बनाएँ. हो सके तो इस मुश्किल दौर में देश की जनता को उसकी नागरिक-ज़िम्मेदारियों के प्रति सचेत कराएँ.’ पिछले कुछ समय में लद्दाख में भारतीय और चीनी सेना के बीच तनाव की स्थ‍िति बनी हुई है