Breaking News
  • मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए दी सहयोग राशि
  • भाजपा में शक्ति केंद्र सम्मेलनों के माध्यम से बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने का कार्य जारी
  • उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकर्ताओं ने किसान बिल को वापस लिए जाने की मांग को लेकर 24 घंटे का उपवास रखा
  • जेल से चल रहे कुख्यातों के नेटवर्क का भंडाफोड, कुख्यात भूरा कैदी की पत्नी से मांग रहा था फिरौती
  • प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे को अपने गृह क्षेत्र में किसानों के तीखे विरोध का सामना करना पड़ा

पहाड़ों की रानी मसूरी त्योहारी सीजन में पर्यटकों से गुलजार

देहरादून, न्यूज़ आई। पर्वतों की रानी के नाम से मशहूर उत्तराखंड का प्रसिद्ध हिल स्टेशन मसूरी इन दिनों पर्यटकों से गुलजार है। खास तौर पर दिल्ली व आसपास के शहरों जैसे गुड़गांव, यूपी आदि से ज्यादा पर्यटक यहां आ रहे हैं और मसूरी के रास्तों पर मंत्रमुग्ध कर देने वाली शामों का लुत्फ ले रहे हैं। मसूरी हमेशा से पर्यटकों की पसंदीदा आरामगाह के रूप में लोकप्रिय रहा है। सर्दियां आ गयी हैं लेकिन मसूरी की ठंडक भरी हवाएं और साथ में त्योहारों का उल्लास और छुट्टियों में सैर-सपाटा करने की इच्छा पर्यटकों को मसूरी की ओर आकर्षित कर रही हैं।
अकेले घूमने के शौकीन दिल्ली एनसीआर के पर्यटक अमन आगा बीते सप्ताह में मसूरी आए। उन्होंने बताया, ’’मसूरी की जादुई खूबसूरती देखकर मैं चकित रह गया। लाइब्रेरी रोड, चारदुकान सभी पर्यटकों को अवश्य जाना चाहिए। इसके अलावा, मसूरी के होटलों में सुरक्षा के उपायों जैसे सैनिटाइजेशन और थर्मल स्क्रीनिंग का भी पर्यटकों के लिए पूरा इंतजाम है।’’गुड़गांव के पर्यटक अभिमन्यू राजपूत ने कहा, ’’मसूरी मेरी पसंदीदा जगहों में से एक है। मैं अपने दोस्तों के साथ यहां घूमने आया और हमने देखा कि होटल के स्टाफ से लेकर सड़कों पर सामान बेचने वाले विक्रेता तक सभी लोग राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 के दिशानिर्देशों पूरा पालन कर रहे थे।’’होटल एंड रेस्टोरेंट ऐसोसिएशन, उत्तराखंड के अध्यक्ष संदीप साहनी ने कहा, ’’मसूरी में निरंतर पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है। हमें खुशी हो रही है कि कोविड महामारी के बाद अब पर्यटन में तेजी आ रही है। जिसमें सबसे ज्यादा पर्यटक दिल्ली, एनसीआर और आसपास की जगहों से आ रहे हैं। सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में हमने पर्यटकों की संख्या में 30-40 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की है।’’ मसूरी के होटलों में बुकिंग का आंकड़ा बढ़ रहा है, त्योहारों के मौसम के मद्देनजर उम्मीद है की होटलों और रेस्टोरेंट में आने वालों की तादाद और बढ़ेगी। उत्तराखण्ड पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा, ‘‘राज्य सरकार द्वारा कोविड 19 लाॅकडाउन के बाद अनलाॅक में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कई सकारात्मक कोशिशें की गयी जिसके रिजल्ट अब पर्यटकों में वृद्वि के रूप में देखने को मिल रहे हैं। उत्तराखण्ड सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पर्यटन हितधारक सुरक्षा के सभी उपायों पर अमल कर रहे हैं इसलिए पर्यटक निश्चिंत होकर यहां घूमने आ रहे हैं।” पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा, ‘‘मसूरी आने वाले पर्यटकों के उत्साह से स्पष्ट है कि यहां पर्यटन की वापसी हो रही है। ये पर्यटन पर आधारित अर्थव्यवस्था वाले उत्तराखंड राज्य के लिए सकारात्मक संकेत हैं। पर्यटन के मामले में हम तेजी से सामान्य होने की तरफ बढ़ रहे हैं। उम्मीद है कि पर्यटन से जुड़े सभी हितधारक कोविड 19 के मद्देनजर जारी दिशानिर्देशों का पालन करेंगे ताकि पर्यटकों में उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों को लेकर भरोसा बढ़ सके।”