Breaking News
  • मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हिमालय देवभूमि संसाधन ट्रस्ट द्वारा पहाड़ी अनाजों से तैयार मिठाईयों ‘‘देवभोग स्वीट्स’’ का किया उद्घाटन
  • मुख्यमंत्री त्रिवेन्द सिंह रावत ने पुलिस लाईन देहरादून में राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर आयोजित रैतिक परेड में किया प्रतिभाग
  • मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने डोईवाला क्षेत्र का भ्रमण कर विभिन्न विकास योजनाओं की प्रगति का जायजा लिया।
  • मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना को प्रदेश के सभी 91 निकायों में प्रभावी ढंग से क्रियान्वित किये जाने के दिये निर्देश
  • राज्यसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी नरेश बंसल ने किया नामांकन दाखिल

विस सत्रः विपक्ष के हंगामे के बीच सदन में सभी 19 विधेयक पारित, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

देहरादून, न्यूज़ आई। उत्तराखंड विधानसभा का एक दिन का सत्र हंगामेदार रहा। कोरोना पर चर्चा की मांग को लेकर सदन में विपक्ष ने हंगामा किया। आरोप लगाया कि प्रदेश में कोरोना से 500 सौ से ज्यादा मौत हो चुकी हैं। इसलिए कोरोना पर चर्चा होनी चाहिए। जिसके बाद लोहाघाट से सत्ता पक्ष के विधायक पूरण सिंह फर्त्याल ने नियम 58 के तहत कार्य स्थगन प्रस्ताव पेश किया। विपक्ष के हंगामे के बीच सदन में रखे सभी 19 विधेयक पारित किए गए। कैग की रिपोर्ट भी सदन के पटल में रखी गई। सभी जरूरी कामकाज निपटाने के बाद सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।
सदन की कार्रवाई के दौरान ट्रैक्टर से विधानसभा जा रहे कांग्रेस विधायकों को पुलिस ने रिस्पना पर रोक दिया, जिससे विधायक प्रीतम सिंह, काजी निजामुद्दीन, मनोज रावत समेत कई विधायक सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। विधायक काजी निजामुद्दीन और प्रीतम सिंह ने कहा कि ट्रैक्टर से विधानसभा जाना कोई गुनाह नहीं है। पुलिस किस नियम के तहत उन्हें जाने से रोक रही है।
कुछ देर बाद इन विधायकों को ट्रैक्टर से विधानसभा जाने दिया गया। कृषि विधेयक के खिलाफ विरोध जताते हुए यह विधायक ट्रैक्टर पर विधानसभा पहुंचे। कड़ी सुरक्षा और कोविड प्रोटोकॉल के बीच विधायककों को सदन में एंट्री दी गई। सभी मंत्री और विधायकों द्वारा पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न स्वर्गीय प्रणब मुखर्जी, पूर्व विधायक स्वर्गीय बृजमोहन कोटवाल और स्वर्गीय नारायण सिंह भैंसोङा को सदन में श्रद्धांजलि दी गई। जिसके बाद सदन की कार्यवाही शुरू हुई। सदन में मुख्यमंत्री, मंत्री मदन कौशिक, अरविंद पांडेय, सुबोध उनियाल, रेखा आर्या, सतपाल महाराज ,विधायक मुन्ना सिंह चैहान, मुकेश कोली, भरत चैधरी, प्रीतम सिंह चैहान, प्रीतम सिंह पंवार, ममता राकेश, सुरेंद्र सिंह जीना, काजी निजामुद्दीन, मनोज रावत आदि मौजूद रहे।