Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

भारत सरकार की तीन सदस्यीय टीम पहुंची क्वारंटीन एवं कोविड केयर सेन्टरों की व्यवस्थाओं का जायजा लेने

नैनीताल, न्यूज़ आई। जनपद में जनपद कोविड-19 क्वारंटीन एवं कोविड केयर सेन्टरों की व्यवस्थाओं का जायजा लेने हेतु भारत सरकार मेे संयुक्त सचिव वाणिज्य एवं उद्योग विभाग निधिमणि त्रिपाठी के नेतृत्व मे उपनिदेशक एनसीडीसी डा0 निशांत कुमार, उपनिदेशक एनसीसी डा0 प्रणय वर्मा की तीन दसस्यीय टीम सोमवार को जनपद नैनीताल पहॅुची। टीम द्वारा टीआरसी सूखाताल में स्थापित कोविड-19 क्वारंटीन सेंटर तथा टीआरसी मल्लीताल तथा रिओ ग्राण्ड होटल में बनाये गऐ कोविड केयर सेन्टरों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओ का जायजा लिया। संयुक्त सचिव ने क्वारंटीन तथा केयर सेन्टरों की सभी व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त करते हुये क्वारंटीन व्यक्तियों को मुहैया करायी जा रही सुविधाओं के लिए जिला प्रशासन की सराहना की। उन्होने कोविड केयर सेन्टर में रखे गये व्यक्तियों की प्रतिदिन काउन्सिलिंग करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होने भारत सरकार द्वारा समय-समय पर जारी होने वाली कोविड-19 गाइड लाईन का अनुपालन करते हुये सोशल डिस्टैसिंग, मास्क तथा सेनिटाइजेशन प्रयोग के लिए लोगो को प्रेरित करने के लिए भी कहा।
उप जिलाधिकारी विनोद कुमार ने टीम को बताया कि नैनीताल, भवाली तथा भीमताल में कुल 95 स्थान कोविड केअर सेंटर के लिए चिन्हित किए गए हैं, जिनका उपयोग आवश्यकता पड़ने पर किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं जनपद में बाहर के प्रान्तों से आने वाले प्रवासियों की निगरानी के लिए शहरी क्षेत्रों में सिटी रेस्पोंस टीम (सीआरटी) तथा ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लाॅक रेस्पोंस टीम (बीआरटी) का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए ग्राम प्रधानों को भी जिम्मेदारियाॅ दी गयी हैं। पीएमएस डाॅ.केएस धामी ने बताया कि टीआरसी सूखाताल क्वारंटीन सेंटर में 6 से 8 डाॅक्टरों की ड्यूटी लगाने के साथ ही कुशल स्टाफ की भी तैनाती की गयी है। उन्होंने बताया कि टीआरसी में 40 व्यक्तियों को रखने की क्षमता है तथा वर्तमान समय में 17 व्यक्ति क्वारंटीन हैं। उन्होंने बताया कि टीआरसी सूखाताल में अब तक 243 व्यक्तियों को क्वारंटीन किया जा चुका हैं, जिसमें से 195 व्यक्तियों के सेम्पल टेस्ट हेतु भेजे गए थे, क्वारंटीन सेंटर से अब तक टेस्ट में कुल 8 व्यक्ति पोजिटिव आए हैं, जिन्हें नियमानुसार कोरोना होस्पिटल हल्द्वानी भेजा गया है। उन्होंने बताया कि क्वारंटीन सेंटरों को भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान पुलिस उपाधीक्षक विजय थापा, डाॅ.अनिरूद्ध गंगोला आदि मौजूद थे।