Breaking News
  • केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रदेश के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर हालात का जायजा लिया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी राज्य के अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में पूरे समर्पित भाव से जनता के बीच मौजूद हैं
  • हेलीकॉप्टर टेक ऑफ न कर सका तो स्थलीय मार्ग से ही निकल पड़े जनता का दुख दर्द बांटने
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी के तूफानी दौरे, त्वरित फैसले, कड़क मॉनिटरिंग से आपदा प्रभावितो को मिली राहत
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को प्रातः सर्किट हाउस काठगोदाम में जन समस्याएं सुनी

प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए दूसरे राज्यों की बसों के संचालन पर जारी रहेगा प्रतिबंध

देहरादून, न्यूज़ आई: कोरोना संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए उत्तराखंड में फिलहाल दूसरे राज्यों की बसों के संचालन पर प्रतिबंध बना रहेगा। सरकार ने राज्य में अंतरराज्यीय परिवहन को खोलने का प्रस्ताव स्थगित कर दिया है। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की ओर से उत्तराखंड में बसों के संचालन का प्रस्ताव भेजा गया था।
मंगलवार को सचिवालय में मुख्य सचिव ओम प्रकाश की अध्यक्षता में हुई बैठक में यूपी रोडवेज की बसों के उत्तराखंड में संचालित करने के प्रस्ताव को स्थगित करने का निर्णय लिया गया। कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए प्रदेश में बाहरी राज्यों से आने के लिए प्रतिदिन दो हजार लोगों की सीमा तय है। बसों के संचालन की अनुमति देने से यह सीमा बढ़ जाएगी। दूसरी वजह राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी है, रिकवरी रेट भी अभी अच्छा नहीं है। 
तीसरी वजह यूपी रोडवेज की बसों में अभी 100 प्रतिशत सवारी और सामान्य किराया लिया जा रहा है। जबकि उत्तराखंड में संचालित हो रहीं बसों में 50 फीसदी सवारी और दोगुना किराया लागू है। इस विरोधाभासी स्थिति को देखते हुए प्रस्ताव को स्थगित कर दिया गया है। सचिव परिवहन शैलेश बगौली ने प्रस्ताव स्थगित करने की पुष्टि की है।