Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

केंद्रीय कैबिनेट के किसानों के हित में लिए गए निर्णय को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बताया ऐतिहासिक

देहरादून, न्यूज़ आई। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने केंद्रीय कैबिनेट द्वारा किसानों के हित में लिए गए निर्णय को ऐतिहासिक बताया है। उन्होंने कहा कि वास्तविक अर्थों में किसान को आज आजादी मिली है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय कैबिनेट द्वारा किसानों व कृषि विकास के दृष्टिगत 3 अध्यादेश लाए गए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार द्वारा विगत दिवस आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत कृषि क्षेत्र के लिए जो घोषणाएं की गई थी, इन अध्यादेशों के आने के बाद वे धरातल पर मूर्त रूप लेंगी। उन्होंने कहा कि किसानों की 50 साल पुरानी मांग थी कि उन्हें अपने उत्पादों को मुक्त रूप से बेचने का अधिकार दिया जाए। मगर कृषि उत्पाद विपणन समिति (एपीएमसी) एक्ट के कारण किसान मंडियों अथवा सरकार द्वारा निर्धारित संस्थाओं को ही अपना उत्पाद बेच सकते थे। श्री भगत ने कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों के लिए यह बाध्यता समाप्त कर वन नेशन-वन मार्केट की अवधारणा को जन्म दिया है और किसान कहीं भी और किसी को भी अपने उत्पाद बेच सकते हैं। किसान को खरीद केंद्र पर जाने की आवश्यकता नहीं है। किसान अपने घर से भी उत्पाद बेच सकता है। किसानों को लाभकारी मूल्य मिलेंगे और उनका आर्थिक स्तर बढ़ेगा।