Breaking News
  • मुख्यमंत्री आवास स्थित जनता मिलन हॉल में शनिवार को राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य के सम्मान में विदाई समारोह का आयोजन किया गया
  • मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री आवास स्थित कैंप कार्यालय में सैन्यधाम के संबंध में उच्च स्तरीय समिति की बैठक आयोजित की गई
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि चारधाम से जुड़े लोगों के हक-हकूक को किसी भी प्रकार से प्रभावित नहीं होने दिया जायेगा
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुख्यमंत्री आवास में चारधाम तीर्थ पुरोहित हक-हकूकधारी महापंचायत समिति के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट वार्ता की
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत जी की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी

कोरोना से महिला की मौत के बाद चमनपुरी सील

देहरादून, न्यूज़ आई। राज्य में अब तक कोरोना से कितने लोगों की मौत हो चुकी है? यह एक ऐसा सवाल है जिसका कोई जवाब नहीं है। सरकारी आंकड़ों की बात करें तो इन मृतकों की संख्या अभी 17 हुई है जबकि कोरोना पीड़ितों की हर मौत के साथ यह शब्द अनिवार्य रूप से कहे जाते है कि मृतक अन्य कई तरह की बीमारियों से ग्रसित था, लेकिन वह कोरोना संक्रमित भी था। महिला की मौत के बाद चमनपुरी क्षेत्र को सील कर दिया गया है।
राजधानी दून में एक कोरोना संक्रमित महिला की मौत हो गयी। चमनपुरी निवासी 58 वर्षीय यह महिला आठ जून से इन्द्रेश अस्पताल में भर्ती थी तथा गम्भीर स्थिति में होने के कारण उसे वेंटीलेटर पर रखा गया था। इस महिला की मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 17 हो गयी है। उधर हल्द्वानी से मिली एक खबर के अनुसार यहाँ सुशीला तिवारी अस्पताल में तीन कोरोना संदिग्धों की मौत हो गयी है जिनकी मौत की पुष्टि तो की जा रही है लेकिन उनकी मौत कोरोना से हुई है इसकी पुष्टि मौत के बाद जांच को भेजे गये सैम्पल की रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगा। यह तीनो ही संदिग्ध दूसरे अस्पतालों से रैफर किये जाने पर यहाँ भर्ती किये गये थे। राज्य में अब तक कई ऐसी संदिग्ध मौते हो चुकी है जो होम क्वारंटीन या क्वारंटीन सेन्टरों में थे। जिनके बारे में आज तक यह पता नहीं चल सका कि उनकी मौत कैसे हुई। अकेले पौड़ी में ऐसी आठ मौतें अब तक हो चुकी है। एम्स ऋषिकेश में एक महिला की मौत के तीन दिन बाद सरकार ने माना था कि वह कोरोना से मरी थी। हर मौत के बाद यही कहा जाता है कि मरीज को और भी कई बीमारियाँ थी इसलिए कोरोना से होने वाली मौतों की सही संख्या जानना असंभव है। बहरहाल दून में कोरोना पीड़ित महिला की मौत के बाद चमनपुरी क्षेत्र को सील कर दिया गया है।