Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया
  • मुख्यमंत्री ने राजपुर रोड स्थित होटल में आयोजित सम्मान समारोह में कोरोना योद्धाओं को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया
  • मुख्यमंत्री ने किया मसूरी विधानसभा क्षेत्र की 70 करोड़ रूपये की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश में जन आशीर्वाद रैली में प्रतिभाग किया, इस अवसर पर उन्होंने 12 घोषणा की

कुंठित कांग्रेस सफल रैली को भी असफल बता रहीः बंसीधर भगत

देहरादून, न्यूज़ आई। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की 15 जून को हुई उत्तराखंड वर्चुअल रैली (जनसंवाद रैली) को 13 लाख से अधिक लोगों ने देखा। यह रैली ऐतिहासिक रूप से सफल रही लेकिन जनता द्वारा लगातार नकारे जाने से हताश कांग्रेस इस रैली को असफल बता कर अपनी कुंठा प्रकट कर रही है। यह बात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंसीधर भगत ने आज भाजपा प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की इस रैली को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं व जनता में भारी उत्साह देखने में आया। इस रैली को उत्तराखंड व बाहर 13 लाख लोगों ने देखा व सुना। इस रैली में राजनाथ सिंह व अन्य नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष की शानदार उपलब्धियों व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में प्रदेश के विकास के लिए किए गए कार्यों का जो विवरण दिया, वह उपलब्धियों का शानदार दस्तावेज है जिससे जनता लाभान्वित हो रही है।
उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य की उपलब्धियों व रैली की शानदार सफलता से कांग्रेस जो पहले से ही जनता द्वारा नकारी जा चुकी गई है और परेशान हो गई है।
श्री भगत ने कहा कि सच यह है कि जनता द्वारा नकारे जाने की वजह से कांग्रेस को लगातार असफलता देखनी पड़ रही है। जनता ने कांग्रेस नेताओं की हरकतों के कारण असफलता का टेंडर कांग्रेस के नाम खोल रखा है। इससे कुंठित कांग्रेस नेताओं को असफलता के अलावा कुछ और दिखाई नहीं देता। इसी वजह से कांग्रेस श्री राजनाथ सिंह की शानदार रूप से सफल रैली को भी असफल बता रही है, लेकिन इससे भाजपा का कोई नुकसान नहीं है अपितु कांग्रेस ही हास्य का पात्र बन गई है।