Breaking News
  • अंतिम पंक्ति पर खड़े लोगों तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने के प्रयास किये जा रहे हैं: सीएम पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश के समग्र विकास के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सर्वे चौक स्थित आईआरडीटी सभागार में उत्तराखण्ड जन विकास समिति के ‘‘पहल 2021’’ अधिवेशन का शुभारम्भ किया
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही मैत्रैयी नाम से छात्राओं के लिए मेंटरशिप कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा इसके लिए एक पोर्टल भी विकसित किया जा रहा है
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टाॅप करने वाली मेधावी बालिकाओं को स्मार्ट फोन वितरित किये

भारत कोरोना से लड़ेगा भी और आगे बढ़कर जीतेगा भी: PM मोदी

नई दिल्ली: PM नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि कोरोना ने देश को आत्मनिर्भर बनने का मंत्र दिया है. भारत आपदा में रोने वाला देश नहीं है. भारत संकट को अवसर में बदलने के लिए गंभीर है. आयात पर निर्भरता कम करेंगे. युवाओं को रोजगार देंगे. पीएम मोदी ने ये बातें की कोल ब्लॉक्स की शुरुआत करने के दौरान कहीं. आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत आज निजी क्षेत्र के लिए 41 कोल ब्लॉक्स की नीलामी की प्रक्रिया की शुरुआत की गई है.
कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत कोरोना से लड़ेगा भी और आगे बढ़कर जीतेगा भी. उन्‍होंने कहा कि आत्‍मनिर्भर भारत का मतलब यह है कि देश आयात पर निर्भरता को कम करेगा. आज हम जिन चीजों का आयात करते हैं, उसी के सबसे बड़े निर्यातक बनेंगे.आज कोयला खदानों में वाणिज्यिक खनन के ज़रिये हम कोयला क्षेत्र को दशकों के लॉकडाउन से बाहर निकाल रहे हैं. उन्‍होंने देश की अवाम से कहा, ‘आप अपना विश्वास, अपना हौसला बुलंद रखिए, हम ये कर सकते हैं. हम आत्मनिर्भर भारत बन सकते हैं. हम आत्मनिर्भर भारत बना सकते हैं.
पीएम ने कहा कि जो देश कोयला भंडार के हिसाब से दुनिया का चौथा सबसे बड़ा देश हो, जो दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक हो, वह देश कोयले का निर्यात नहीं करता, बल्कि वह देश दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा कोयला आयातक है.वर्ष 2014 के बाद इस स्थिति को बदलने के लिए एक के बाद एक कई कदम उठाए गए. जिस कोल लिंकेज की बात कोई सोच नहीं सकता था, वो हमने करके दिखाया और ऐसे कदमों के कारण कोल सेक्‍टर को मजबूती भी मिली.कोयला निकालने से लेकर परिवहन तक को बेहतर बनाने के लिए जो आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा, उससे भी रोज़गार के अवसर बनेंगे, वहां रहने वालों को अधिक सुविधाएं मिलेंगी.