Breaking News
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश में जन आशीर्वाद रैली में प्रतिभाग किया, इस अवसर पर उन्होंने 12 घोषणा की
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व मे भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का सपना भी साकार हो रहा है: सीएम धामी
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और केंद्र सरकार के सहयोग से उत्तराखण्ड में विकास के नये आयाम स्थापित हुए हैं
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन की हार्दिक बधाई दी
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी

विधायक जोशी ने गढ़ी कैंट में किया ट्यूबवैल का लोकार्पण

देहरादून, न्यूज़ आई। गढ़ी कैंट में पेयजल की किल्लत को दूर करने के लिए मंगलवार को ट्यूबवैल का लोकार्पण मसूरी विधायक गणेश जोशी द्वारा किया गया। उत्तराखण्ड पेयजल निगम द्वारा बनाया गया यह नलकूप 172.22 लाख की लागत से बना है और मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की घोषणा के बाद यह साकार हो सका है। इस नलकूप से 1200 एलपीएम पानी मिलेगा, जिसके बाद गढ़ी कैंट क्षेत्र पानी की दिक्कत नहीं होगी। इस योजना से आधार वर्ष 2018 में 17077 एवं डिजाइन वर्ष 2048 में 38318 जनसंख्या को लाभ प्राप्त होगा।
नलकूप केे लोकार्पण अवसर पर उपस्थित सभा को सम्बोधित करते हुए विधायक गणेश जोशी ने कहा कि जब मैं पहली बार वोट मांगने के लिए गढ़ी डाकरा क्षेत्र में आया था, उस वक्त महिलाओं द्वारा मुझे सिर्फ पानी की समस्या को हल करने का अनुरोध किया था। उन्होनें बताया कि मेरा प्रयास रहता है कि प्रत्येक समस्या का समाधान एक समय सीमा के तहत पूर्ण हो। विधायक जोशी ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का आभार प्रकट करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री घोषणा के अधीन मसूरी विधानसभा क्षेत्र में 70 प्रतिशत से अधिक घोषणाऐं पूर्ण हो गयी हैं। उन्होनें कहा कि यदि मुख्यमंत्री घोषणा न करते तो शायद आज इस नलकूप का निर्माण नहीं हो सका। उन्होनें कहा कि जल ही जीवन योजना के तहत राज्य में एक रुपये के पेयजल संयोजन किया जाऐगा और 2024 तक प्रत्येक घर को इस योजना के अधीन जोड़ दिया जाऐगा। विधायक जोशी ने कहा कि तृतीय विश्व युद्ध पानी पर हो सकता है इसलिए हमें पानी को बचाने की आवश्यकता है। उन्होनें छावनी परिषद को कहा कि जो भी नक्शे पास करते समय रैन वाटर हार्वेटिंग को सुनिश्चित किया जाए ताकि पेयजल की बचत हो सके। विधायक जोशी ने बताया कि विलासपुर काड़ली, गंगोल पंड़ितवाड़ी एवं गल्जवाड़ी में पेयजल की समस्या को हल करने के लिए पेयजल निगम द्वारा 10 करोड़ से अधिक की लागत से योजना का निर्माण कार्य चल रहा है। उन्होंने बताया कि लाकडाउन के कारण लोकार्पण में विलम्ब से हुआ। विधायक जोशी ने पेयजल निगम के अधिकारियों को बधाई दी। इस अवसर पर छावनी परिषद देहरादून की मुख्य अधिशासी अधिकारी तनु जैन, जलनिगम के अधीक्षण अभियंता एससी पंत, ईई जितेन्द्र देव, ईई सुमित आनन्द, कैंट बोर्ड की उपाध्यक्ष राजेन्द्र कौर सौंधी, विष्णु प्रसाद, देवेन्द्र पाल सिंह, आरएस परिहार, राज्यमंत्री टीडी भूटिया सहित कैंट बोर्ड के सभासद मेघा भट्ट, कमल राज सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।