Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

नरेश बंसल (कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त) ने एसोसिएशन ऑफ म्यूच्यूअल फंड इन इंडिया के द्वारा आयोजित विषय लाइव वेबीनार को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित किया

देहरादून, न्यूज़ आई: नरेश बंसल (कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त) उपाध्यक्ष 20 सूत्री कार्यक्रम एवं क्रियान्वयन समिति ने एसोसिएशन ऑफ म्यूच्यूअल फंड इन इंडिया के द्वारा आयोजित विषय लाइव वेबीनार को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित किया।
श्री बंसल ने कहा कि बचत करना अति आवश्यक है तथा प्राचीन काल से हमारे बुजुर्गों द्वारा भी यही पद्धति हमें सिखाई गई है कि अपनी कमाई हुई कुल राशि में से कुछ ना कुछ बचत संकट काल के लिए या भविष्य की योजनाओं के लिए की जाए। उन्होंने कहा आज भारत सरकार एवं SEBI आदी द्वारा बचत के बहुत से माध्यम है जैसे फिक्स डिपाजिट,शेयर बाजार, लैंड इन इक्विटी,सोना,चाँदी व म्यूच्यूअल फंड आदि बहुत से विकल्प मौजूद है जिसमे निवेशक निवेश करता है अपने सामर्थ्य के अनुसार अपनी आने वाली जरूरतों को ध्यान में रखते हुए।हमे अपने निवेश की समुचित प्लानिंग करनी चाहिए जो भविष्य के लिए बनाई योजनाओं को पूर्ण करने में मदद करें और जिन आने वाली जरूरतों को पूरा करने के लिए वह बचत के माध्यमों में निवेश कर रहा है वह पूरा कर सके।
मंत्री जी ने कहा कि इस कोरोना संकटकाल में वह निवेशक आर्थिक रूप से ज्यादा अच्छी स्थिति में रहा होगा जो पहले से बचत संबंधी योजनाओं में निवेश कर अपने आप को सुरक्षित रखे हुए था । जिस व्यक्ति की कोई बचत नहीं थी उसके लिए यह समय ज्यादा संकट का था ।
माननीय मंत्री जी ने कहा कि जब निवेशक बाजार में आता है तो उसके सामने काफी सारे विकल्प होते हैं उनका वह सही चुनाव कर सके उसके लिए विभिन्न क्षेत्रों में बहुत सारे एक्सपर्ट काम कर रहे हैं जिसमें से बहुत से लोग इस वेबीनार से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि इन एक्सपर्ट को चाहिए कि निवेशक को उसकी जरूरत अनुसार निवेश का सही माध्यम बताएं ताकि निवेशक अपने निवेश को लेकर सुरक्षित महसूस कर सकें तथा उसे निवेश पर उचित लाभ समय पर प्राप्त हो सके।
श्री बंसल जी ने कहा कि इस हेतु नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली भारत सरकार ने अलग-अलग क्षेत्रों की निवेशक नियामक आयोग एवं सेवी आदि के द्वारा एवं सख्त कानून बनाते हुए निवेशक का विश्वास मजबूत करने का कार्य किया जा रहा है उन्होंने कहा कि कोरोना संकटकाल में कैसे दुबारा अर्थव्यवस्था पटरी पर आए एवं देशी एवं विदेशी निवेशक भारत में ज्यादा से ज्यादा निवेश कर सकें इसकी योजना पर केंद्र व प्रदेश की सरकारों द्वारा बहुत तेजी से कार्य चल रहा है । नरेश बंसल जी ने एसोसिएशन ऑफ म्यूच्यूअल फंड इन इंडिया व उससे जुड़े सभी मित्रों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी तथा डीएम अल्मोड़ा एवं उपस्थित अन्य विभागों से इस पर आख्या भी मांगी है ताकि भविष्य में इस पर और तेजी से कार्य हो सके।
श्री सूर्यकांत शर्मा वरिष्ठ कंसलटेंट AMFI ,श्री सतपाल सिंह डायरेक्टर आइटीबीपी ट्रेनिंग अकैडमी अल्मोड़ा तथा डॉक्टर संजय कुमार अग्रवाल कार्यक्रम संयोजक एवं अन्य प्रतिभागी मौजूद रहे ।