Breaking News
  • अंतिम पंक्ति पर खड़े लोगों तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने के प्रयास किये जा रहे हैं: सीएम पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश के समग्र विकास के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सर्वे चौक स्थित आईआरडीटी सभागार में उत्तराखण्ड जन विकास समिति के ‘‘पहल 2021’’ अधिवेशन का शुभारम्भ किया
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही मैत्रैयी नाम से छात्राओं के लिए मेंटरशिप कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा इसके लिए एक पोर्टल भी विकसित किया जा रहा है
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टाॅप करने वाली मेधावी बालिकाओं को स्मार्ट फोन वितरित किये

राज्यसभा में विपक्षी दलों का अविश्वास प्रस्ताव खारिज

दिल्ली: किसानों से जुड़े दो विधेयक विपक्ष के जोरदार विरोध के बीच लोकसभा के बाद रविवार को राज्यसभा में भी पारित हो गया है. विपक्षी दलों की कार्यवाही स्थगन की मांग के बाद सदन में जिस तरह दो कृषि विधेयकों को ध्वनि मत से पास किया गया है, उसे लेकर राज्यसभा उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह के खिलाफ 12 विपक्षी दलों ने अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया है. उच्चसदन के इतिहास में पहली बार है कि जब किसी उपसभापति के खिलाफ इस तरह से विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव लेकर आया है. हालांकि, लोकसभा में अभी तक कुल तीन स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है.
कृषि संबंधी विधेयक को लेकर राज्यसभा में रविवार को जोरधार हंगामा हुआ. सदन में विधेयक पर विपक्ष चर्चा के लिए अगले दिन बढ़ाने की मांग कर रहा था, लेकिन सत्तापक्ष हर हाल में इसे पास करना चाहता था. इसे लेकर विपक्ष ने सदन में जमकर हंगामा किया. टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने सदन में रूल बुक फाड़ दी. उन्होंने कहा कि सदन में सारे नियम तोड़ दिए गए हैं. राज्यसभा सभापति वेंकैया नायडू ने रविवार को हंगामा करने वाले विपक्ष के आठ सांसदों को बचे हुए सत्र के लिए निलंबित कर दिया है.
सदन में हंगामा के बाद निलंबित होने वाले सांसदों में डेरेक ओ ब्रायन, संजय सिंह, रिपुन बोरा, सैय्यद नासिर हुसैन, केके रागेश, ए करीम, राजीव साटव, डोला सेन हैं. राज्यसभा सभापति ने कहा कि उपसभापति हरिवंश सिंह के खिलाफ विपक्षी सांसदों की तरफ से लाया गया अविश्‍वास प्रस्‍ताव नियमों के हिसाब से सही नहीं है. एक तरह से सभापति ने विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है.