Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 6104 पहुंची, रविवार को 143 कोरोना पाॅजीटिव पाए गए

देहरादून, न्यूज़ आई। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रविवार को 143 मामले सामने आए हैं, जिनमें सबसे अधिक मामले 51 मामले ऊधमसिंह नगर में सामने आए हैं। इसके अलावा 46 देहरादून, 26 हरिद्वार, छह उत्तरकाशी, पांच नैनीताल, तीन पौड़ी गढ़वाल, एक-एक टिहरी गढ़वाल और चमोली में सामने आए हैं। वहीं, 71 लोग पूरी तरह से ठीक हुए हैं। प्रदेश में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 6104 हो गई है, जबकि 3566 लोग पूरी तरह से स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। वर्तमान में 2437 मामले एक्टिव हैं, जबकि 63 की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 38 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं।
जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर रेंडम टेस्ट में जम्मू कश्मीर से आया जवान संक्रमित पाया गया, जिन्हें एंबुलेंस से दून हॉस्पिटल भर्ती कराया गया है। वहीं, जौलीग्रांट में स्टाफ नर्स की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है, जिसके बाद उन्हें भी दून हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में पिछले 24 घंटे में हुई कोरोना सैंपल जांच में तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें दो स्थानीय लोग भी शामिल हैं। एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि वीरभद्र मार्ग एम्स कैंपस निवासी 19 वर्षीय नर्सिंग स्टूडेंट्स, जो बीते सप्ताह 17 जुलाई को जोधपुर राजस्थान से ऋषिकेश आई थी। उसका एम्स ओपीडी में 18 जुलाई को पहला कोविड सैंपल लिया गया, जो नेगेटिव आया था। नर्सिंग स्टूडेंट 17 जुलाई से क्वारंटाइन है। उसका दूसरा सैंपल 25 जुलाई को लिया गया, जो पॉजिटिव पाया गया है। दूसरा मामला टिहरी विस्थापित क्षेत्र ऋषिकेश का है। विस्थापित निवासी 30 वर्षीय व्यक्ति जो कि एम्स के रेडियोथेरेपी विभाग में नर्सिंग ऑफिसर हैं। वह बीती 17 जुलाई को भरतपुर राजस्थान से ऋषिकेश आए थे और उसके बाद से होम क्वारंटाइन थे। उनका 18 जुलाई को लिया गया पहला कोविड सैंपल नेगेटिव आया था, जबकि 25 जुलाई को लिया गया दूसरा सैंपल कोविड पॉजिटिव पाया गया है। तीसरा मामला हरिद्वार क्षेत्र का है। ज्वालापुर हरिद्वार निवासी 21 वर्षीय युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।