Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया
  • मुख्यमंत्री ने राजपुर रोड स्थित होटल में आयोजित सम्मान समारोह में कोरोना योद्धाओं को प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया
  • मुख्यमंत्री ने किया मसूरी विधानसभा क्षेत्र की 70 करोड़ रूपये की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश में जन आशीर्वाद रैली में प्रतिभाग किया, इस अवसर पर उन्होंने 12 घोषणा की

पांच अगस्त को राम मंदिर के भूमि पूजन में मंदिर आंदोलन से जुड़े कई बड़े चेहरे नहीं आयेंगे नजर

अयोध्या- वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के चलते अयोध्या में पांच अगस्त को होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन एवं शिलान्यास कार्यक्रम में मंदिर आंदोलन से जुड़े कई बड़े चेहरे नजर नहीं आयेंगे। पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी,डा मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने भी ऐतिहासिक कार्यक्रम में भाग नहीं लेने का फैसला किया है। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने सोमवार को स्वीकार किया कि कोरोना वायरस की वजह से कई बुजुर्ग नेताओं को भूमि पूजन कार्यक्रम में वर्चुअली भाग लेने को कहा गया है। उन्होने कहा ” हम खेद व्यक्त करते है कि हम उन्हे आमंत्रित नहीं कर सके। श्री आडवाणी की आयु 90 वर्ष से अधिक है। वह कैसे आ सकते हैं। कई अन्य महान हस्तियों की भी आयु को देखते हुये नहीं बुलाया गया है। ” उन्होने खुलासा किया कि कार्यक्रम में 175 मेहमान भाग लेंगे।आपको बता दें कि राम मंदिर आदोलन के अगुआ रहे आडवाणी समेत मुरली मनोहर जोशी और अपनी सरकार गंवाने वाले कल्याण सिंह को कार्यक्रम का न्यौता नहीं भेजा गया है |
इस बीच ट्रस्ट के अधिकारियों ने बताया ” सभी आमंत्रण पत्रों में सिक्यूरिटी कोड होगा जो सिर्फ एक बार काम करेगा जिससे एक बार कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश करने वाला मेहमान परिसर के अंदर ही रहेगा। कार्यक्रम स्थल में मोबाइल या कैमरा ले जाने की इजाजत नहीं दी जायेगी।