Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

विपक्षी दुष्प्रचार कर मेरी छवि धूमिल करना चाहतेः सतपाल महाराज

देहरादून, न्यूज़ आई। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि विपक्षी पार्टी के लोग दुष्प्रचार कर मेरी छवि धूमिल करना चाहते हैं। कुछ लोग मेरे परिवार की झूठी ट्रेवल हिस्ट्री की अफवाह सोशल मीडिया के जरिए फैला रहे हैं। मैं और मेरे परिवार का कोई भी सदस्य पिछले तीन माह से विदेश यात्रा पर नहीं गया है। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के हवाले से उनके प्रतिनिधि पंकज भट्ट ने पत्रकारों से यह बातें कही। जीएमवीएन के पूर्व निदेशक पंकज ने बताया कि कैबिनेट मंत्री महाराज ने इस बात को भी सरासर निराधार बताया है कि उनके बेटे और बहू 21 मई को दुबई से वंदे भारत फ्लाइट से दिल्ली आए थे।
उनके अनुसार पिछले तीन माह से वह और परिवार विदेश यात्रा पर नहीं गए हैं। वे फरवरी से देहरादून स्थित आवास पर ही रह रहे हैं। छह मई को कैबिनेट मंत्री महाराज, उनकी पत्नी अमृता रावत, उनके पुत्र और पुत्रवधू रुद्रप्रयाग व चैबट्टाखाल में राहत सामग्री बांटने गए थे। वहां पर उन्होंने क्षेत्रवासियों की समस्याओं का भी संज्ञान लिया गया। विपक्ष अफवाह फैला रहा है कि 21 मई को उनका बड़ा बेटा और बहू दुबई से आए हैं और वे (महाराज) उन्हें लेने दिल्ली गए थे, जबकि 21 मई को वह कैबिनेट की बैठक और 22 मई को देवस्थानम बोर्ड की बैठक में देहरादून में शामिल हुए थे। पंकज भट्ट के अनुसार 24 मई को महाराज के पूरे परिवार का सीएमओ देहरादून की ओर से कोविड-19 टेस्ट कराया गया था। इसमें उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। उसके उपरांत ही वह 29 मई को कैबिनेट की मीटिंग में गए थे। कैबिनेट मंत्री की बातों को साझा करते हुए पंकज भट्ट ने बताया कि विपक्ष सवाल कर रहा है कि सतपाल महाराज के मोबाइल में क्या आरोग्य सेतु एप नहीं था। उन्होंने बताया कि कैबिनेट मंत्री सहित सभी पारिवारिक सदस्यों और स्टाफ के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप है। मगर, कोरोना किसी को भी हो सकता है।