Breaking News
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश में जन आशीर्वाद रैली में प्रतिभाग किया, इस अवसर पर उन्होंने 12 घोषणा की
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व मे भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का सपना भी साकार हो रहा है: सीएम धामी
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और केंद्र सरकार के सहयोग से उत्तराखण्ड में विकास के नये आयाम स्थापित हुए हैं
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन की हार्दिक बधाई दी
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी

लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर स्थिति अभी भी तनावपूर्ण !

लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर अभी तनाव है. बताया जा रहा है कि गलवान घाटी के पेट्रोलिंग प्वाइंट-14 पर स्थिति बेहद तनावपूर्ण बनी हुई है. मेजर जनरल-स्तरीय वार्ता ने कल मुश्किल से चीजों को नियंत्रण में रखा है. तनावपूर्ण माहौल के बीच दोनों देशों के बीच हुई सैन्य अधिकारियों की मीटिंग के बाद मामला थोड़ा शांत है.
भारतीय सेना के जवानों के गुस्से की सबसे बड़ी वजह है कि कुछ शहीदों के शव क्षत-विक्षत हालात में मिले हैं. यह बटालियन में गुस्से को भड़काने के प्रमुख कारणों में से एक है. लेह कॉर्प्स कमांडर हर घंटे 3 डी कमांडर के साथ संपर्क में हैं और पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. बताया जा रहा है कि चीन के साथ एक दौर की और बातचीत हो सकती है. अगर जरूरी समझा गया तो लेफ्टिनेंट जनरल स्तर या सेना कमांडर स्तर पर एक और दौर की बातचीत हो सकती है. अभी सभी विकल्पों पर चर्चा की जा रही है, चीन ने अधिक वार्ता प्रस्तावित की है, लेकिन वार्ता का स्तर अभी साफ नहीं है. फिलहाल, सेना की ओर से लद्दाख के पैंगोंग त्सो में हालत को सामान्य की कोशिश की जा रही है.
इस बीच भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और लद्दाख में एलएसी के साथ अपने सभी प्रमुख फ्रंट-लाइन ठिकानों पर अतिरिक्त जवानों को रवाना कर दिया है. वायुसेना ने पहले से ही अपने सभी फॉरवर्ड लाइन बेस में एलएसी और बॉर्डर एरिया पर नजर रखने के लिए अलर्ट स्तर बढ़ा दिया है.