Breaking News
  • एचआईवी संक्रमण मुक्त उत्तराखंड को लेकर गंभीर धामी सरकार
  • एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद
  • उत्तराखंड में धर्मांतरण पर बना सख्त कानून, देशभर के साधु-संतों में हर्ष की लहर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिल रही शुभकामनाएं
  • प्रदेश में धर्मान्तरण पर रोक सम्बंधित कानून बना
  • महिलाओं को सरकारी नौकरियों के क्षैतिज आरक्षण का बना कानून

विधानसभा सत्र के पहले दिन कांग्रेस ने राज्य सरकार को महंगाई के मुद्दे पर घेरा

देहरादून, न्यूज़ आई । पहली बार सदन पहुंचीं कांग्रेस विधायक अनुपमा रावत ने पहले दिन से ही धुआंधार बैटिंग शुरू कर दी है। विधानसभा सत्र के पहले दिन कांग्रेस ने राज्य सरकार को महंगाई के मुद्दे पर घेरा। कांग्रेस विधायक अनुपमा रावत ने महंगाई का अनोखे अंदाज में विरोध किया। राज्यपाल का अभिभाषण जैसे ही खत्म हुआ वह अपना दुपट्टा फैलाए सदन के बाहर निकली, इस पर महंगाई को लेकर भाजपा विरोधी नारे लिखे थे। अनुपमा रावत सदन से बाहर निकलकर पूरी तरह से फॉर्म में नजर आईं और भाजपा सरकार को महंगाई पर जमकर खरी-खोटी सुनाई।
अनुपमा रावत का विरोध का यह अंदाज कहीं ना कहीं हरीश रावत की याद दिलाता है और जिस तरह से वह बेबाक होकर सरकार को घेरने का काम कर रही हैं, इससे पता लगता है कि हरीश रावत की विरासत को कहीं ना कहीं अनुपमा रावत बेहद आगे लेकर जाएंगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को उम्मीद थी कि राज्यपाल के अभिभाषण में महंगाई को रोकने के लिए सरकार को सख्त दिशा निर्देश दिए जाएंगे, लेकिन अभिभाषण में ऐसा कुछ नहीं था। अनुपमा रावत ने कहा कि उनको लग रहा था कि वो उनको इस दुपट्टे को दिखाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, लेकिन उनको ऐसा करना पड़ा। उन्होंने कहा कि महंगाई से महिलाओं के हाल बुरे हैं। गैस सिलेंडर की कीमत एक हजार के पार हो गई है। महिलाओं को दोबारा लकड़ियों के चूल्हे का इस्तेमाल करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें भी लगातार बढ़ रही हैं। लगातार बढ़ रही इस महंगाई से आम जनता परेशान है।