Breaking News
  • ज्यपाल लेफ्टिनेंट (से.नि.) जनरल गुरमीत सिंह ग्रीष्मकालीन प्रवास पर राजभवन नैनीताल पहुंचे।
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया 113.34 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण
  • मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने चारधाम यात्रा के सम्बन्ध में सम्बन्धित जनपदों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली बैठक
  • प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रेम चन्द अग्रवाल द्वारा शहरी विभाग के अन्तर्गत देहादून स्मार्ट सिटी के सम्बन्ध में विधान सभा में बैठक ली
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी द्वारा लिखित उपन्यास “भंवर एक प्रेम कहानी“ का विमोचन किया

मुख्यमंत्री ने दिये योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश

देहरादून, न्यूज़ आई: मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने मंगलवार को सचिवालय में जनपद देहरादून की विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के लिये की गई घोषणाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। समीक्षा बैठक में कैबिनेट मंत्री एवं विधायक मसूरी गणेश जोशी पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधायक डोईवाला त्रिवेन्द्र सिंह रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं विधायक चकराता प्रीतम सिंह, विधायक विकासनगर मुन्ना सिंह चौहान, विधायक सहसपुर सहदेव सिंह पुण्डीर, विधायक धर्मपुर विनोद चमोली, विधायक रायपुर उमेश शर्मा काऊ, विधायक राजपुर खजान दास, विधायक देहरादून केन्ट हरबंस कपूर उपस्थित रहे।
मुख्यमंत्री ने सभी विधानसभाओं में आन्तरिक सड़कों के सुधारीकार्य, पेयजल, नलकूप निर्माण सीवरेज व ड्रेनेज की व्यवस्था, बाढ़ सुरक्षा कार्य आदि से सम्बन्धित प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान करते हुए इनके निर्माण में तेजी लाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। मुख्यमंत्री ने देहरादून के विभिन्न क्षेत्रों में नालों को अण्डर ग्राउण्ड करने के लिये नीतिगत निर्णय लिये जाने हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए कि देहरादून के जिन क्षेत्रों से अतिक्रमण हटाया गया है वहां सड़कों के निर्माण में तेजी लाया जाए। इसमें बिजली के पोल हटाने व ड्रेनेज आदि के कार्यों को भी प्राथमिकता के साथ ही पूरा किया जाए। उन्होंने चकराता विधानसभा के अन्तर्गत मीनस अटाल सड़क के सुधारीकरण के प्रस्ताव को सी आर एफ योजना में सम्मिलित करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही क्षेत्र की अन्य सड़कों एवं पेयजल योजनाओं के कार्यों में तेजी लाये जाने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने डोईवाला में बस अड्डे के निर्माण से सम्बन्धित कार्यवाही 15 दिन में पूर्ण करने तथा रानीपोखरी में विद्युत सब स्टैशन, सीपेट के नजदीक बाढ़ सुरक्षा कार्य तथा विभिन्न क्षेत्रों में की पेयजल योजनाओं के सुदृढ़ीकरण कार्य में तेजी लाने को कहा।
समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने सभी विधानसभा क्षेत्रों की गतिमान योजनाओं को अनुमोदन प्रदान करने के साथ ही इन पर शीघ्र कार्य आरंभ करने को कहा। उन्होंने कहा कि जिन योजनाओं के लिये फण्डिंग की व्यवस्था एडीवी से की जानी है , उनके प्रस्ताव भी शीघ्र तैयार किये जाए।
सचिव मुख्यमंत्री शैलेश बगोली ने विधानसभा क्षेत्र वार योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी देते हुए बताया कि मसूरी विधानसभा क्षेत्र के लिये मुख्यमंत्री द्वारा की गई 45 घोषणाओं में से 32 के शासनादेश जारी किये जा चुके है जबकि शेष की कार्यवाही गतिमान है।
इसी प्रकार देहरादून केन्ट के लिये 7 में से 5, विकासनगर की 25 में से 23, रायपुर की 22 में 19, राजपुर रोड़ की 14 में 11, चकराता की 41 में से 35, सहसपुर की 55 में से 34, धर्मपुर की 54 में से 19, डोईवाला की 211 में से 187 तथा ऋषिकेश की 25 में से 11 योजनाओं के शासनादेश जारी किये जा चुके है तथा शेष पर कार्यवाही गतिमान है।
बैठक में मुख्य सलाहकार मुख्यमंत्री शत्रुघ्न सिंह, अपर मुख्य सचिव आनन्द वर्द्धन, प्रमुख सचिव आर.के. सुधांशु, सचिव एस.एन.पाण्डे, एस.ए. मुरूगेशन, सुशील कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे तथा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जिलाधिकारी देहरादून मौजूद रहे।