Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी द्वारा लिखित उपन्यास “भंवर एक प्रेम कहानी“ का विमोचन किया
  • सरकार तीर्थयात्रियों की सहायता हेतु तत्पर होकर कार्यकर रहीः मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थिति में उत्तराखण्ड सरकार और भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड के मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए
  • नमामि गंगे परियोजना के तहत राज्य के लिए 43 करोड़ की चार परियोजनाओं को मिली स्वीकृति
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में आयोजित बजट पूर्व संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया

मेलाधिकारी दीपक रावत ने हर की पौड़ी पर महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम का किया उद्घाटन

हरिद्वार, न्यूज़ आई। मेलाधिकारी दीपक रावत ने सोमवार को महिला दिवस के अवसर पर टाटा शक्ति द्वारा हर की पौड़ी पर महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम (शक्तिशाली कवच) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मेलाधिकारी ने कहा कि आज अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर टाटा शक्ति द्वारा कुम्भ क्षेत्र के विभिन्न घाटों के लिये 50 चेंजिंग रूम की सुविधा उपलब्ध कराई है, जो एक अच्छी पहल है, इसका हम स्वागत करते हैं। हमारा प्रयास है कि हम एक वुमेन फ्रेंडली कुम्भ कराएं, इस ओर यह एक बहुत अच्छा कदम है तथा हम एक वुमेन फ्रेंडली कुम्भ का मैसेज देने में कामयाब होंगे। उन्होंने कहा कि चेंजिंग रूम लगने से महिलाओं को काफी सुविधा होगी। उन्होंने स्थापित किए गए चेंजिंग रूम की सुविधाओं को परखा और चेंजिंग रूमों की प्रशंसा की। उल्लेखनीय है कि टाटा शक्ति की और से महाकुम्भ में लगभग 50 लेडीज चेंजिंग रूम विभिन घाटों पर लगाए गए हैं। ये चेंजिंग रूम शीशा, स्टूल, डस्टबीन, हैंगर और बुजुर्गों के लिए हैंडल आदि की सुविधाओं से युक्त हैं। इनके निर्माण में टाटा शक्ति व वामा शीट का उपयोग किया गया है, जो कि सालों साल चलती है। इस अवसर पर राज्य पुरस्कार से सम्मानित एकल विद्यालय संगठन संस्था की उत्तराखंड उपाध्यक्ष रमा गुंसाई, टाटा स्टील के सीनियर मैनेजर पवन लोधी, टाटा शक्ति के उत्तराखंड के डिस्ट्रिब्यूटर बिहानी इंटरनेशनल प्रा.लि. के मैनेजर बिहारी लाल चोमवाल व स्थानीय डीलर बालाजी आयरन स्टोर के मालिक दीपक मणि गुप्ता, गोविंद कृपा सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट के संरक्षक संजय वर्मा, भाजपा नेत्री अनीता वर्मा, लाल माता वैष्णों देवी मंदिर के संचालक भक्त दुर्गादास, व्यापारी नेता राजू वधावन आदि मौजूद थे।