Breaking News
  • 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में उत्तराखण्ड को मिला Most Film Friendly State (Special Mention) पुरस्कार
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को लच्छीवाला नेचर पार्क में राज्य वन्यजीव सप्ताह 2022 का शुभारंभ किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से फिल्म अभिनेता  नाना पाटेकर ने शिष्टाचार भेंट की, इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने नाना पाटेकर को पहनाई पहाड़ी टोपी 
  • उत्तराखण्ड में फिल्म निर्माता-निर्देशकों को राज्य सरकार से मिला प्रोत्साहन – बंशीधर तिवारी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने श्रीकोट पहुँचकर अंकिता भंडारी के परिजनों से घर पर जाकर की मुलाकात

पीएम मोदी करेंगे बाबा केदारनाथ के दर्शन, 5 नवंबर को उत्तराखंड आने की संभावना

देहरादून, न्यूज़ आई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कपाट बंद होने से पहले बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए आएंगे। उनके दिवाली या उसके आसपास चार व पांच नवंबर को उत्तराखंड आने की संभावना है। केदारनाथ के कपाट छह नवंबर को भैया दूज पर बंद हो जाएंगे। पिछले दिनों पीएम मोदी ऋषिकेश स्थित एम्स में आयोजित कार्यक्रम में आए थे। तब भी उनके केदारनाथ जाने की संभावना जताई जा रही थी। उनके दौरे से ठीक एक दिन पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी केदारनाथ गए थे। उन्होंने वहां चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया था। प्रधानमंत्री के दौरे से ठीक एक हफ्ते पहले उनके सलाहकार भाष्कर खुल्बे ने भी केदारनाथ पहुंचकर पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लिया था।
सीएम व सलाहकार के इन दौरों के बाद पीएम के केदारनाथ जाने की संभावनाएं जताई जा रही थीं, लेकिन प्रधानमंत्री केदारनाथ नहीं गए। लेकिन अब प्रधानमंत्री के पांच नवंबर को केदारनाथ जाने की संभावना है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने इसके संकेत दिए हैं। प्रधानमंत्री सैनिकों के साथ दिवाली मनाते हैं। संभावना है कि पीएम चार नवंबर को उत्तराखंड में बॉर्डर पर सैनिकों के साथ दिवाली मनाने के बाद पांच नवंबर को बाबा केदार के दर्शन कर सकते हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी अब तक चार बार केदारनाथ आ चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ में चल रहे दूसरे चरण के पुनर्निर्माण कार्यों का शिलान्यास भी कर सकते हैं। दूसरे चरण में 160 करोड़ के कार्य होने हैं। केदारधाम में आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा भी स्थापित होनी है। पिछले दिनों प्रधानमंत्री ने कहा भी था कि वह पुनर्निर्माण कार्यों की वर्चुअल मॉनिटरिंग कर रहे हैं।