Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुलिस लाइन में प्रशासनिक भवन, क्वार्टर गार्द एवं बैरक का किया शिलान्यास
  • प्रदेशवासियों को जल्द ही ई-एफआईआर की सुविधा मिलेगी, इसमें घर बैठे ही एफआईआर दर्ज कराई जा सकेगी
  • आकाश अंबानी होंगे रिलायंस जियो इनफोकॉम के नए चेयरमैन
  • सीएम धामी ने पीएम मोदी से की भेंट, जीएसटी क्षतिपूर्ति की अवधि बढ़ाने का किया अनुरोध
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सैनिक स्कूल के लिए वित्तीय सहायता प्रदान किये जाने का किया रक्षा मंत्री से अनुरोध

भारत में एक ऐसा भी ‘गैंग’ था, जो हमेशा चाहता था कि में असफल हो जाऊ : रवि शास्त्री

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि उनके कार्यकाल के समय भारत में एक ऐसा भी ‘गैंग’ था, जो हमेशा चाहता था कि वह असफल हों। उन्होंने कहा, “टीम इंडिया का कोच बनने से पहले मेरे पास कोई कोचिंग बैज लेवल-1, लेवल-2 नहीं था। कुछ लोग हमेशा चाहते थे कि मैं असफल हो जाऊं। लेकिन मेरी चमड़ी ड्यूक गेंद से भी मोटी है, उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में 2-1 से टेस्ट सीरीज़ जीतने की भी घटना को याद करते हुए कहा, “मैंने खिलाड़ियों से कहा था कि वे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को पूरी आक्रमकता से जवाब दें। अगर वे आपको एक बार स्लेज़ करते हैं तो आप उनको तीन बार करो, दो बार अपनी भाषा में और एक बार उनकी भाषा में। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच जीतने के लिए आपके तेज़ गेंदबाज़ों को 20 विकेट लेने की भी ज़रूरत होती है और उसके लिए आक्रमकता व क्रूरता दोनों ज़रूरी है।”