Breaking News
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी से मुनस्यारी, पिथौरागढ़, चम्पावत के लिए हेली सेवा का शुभारम्भ किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा परिवहन विभाग के प्रस्ताव को दी गई स्वीकृति
  • पुलिस एवं परिवहन की संयुक्त टीमों द्वारा गत वर्षो में यात्रा सीजन के दौरान हुई सड़क दुर्घटनाओं का डेथ ऑडिट करने के निर्देश
  • सीएम ने उच्च शिक्षा शोध प्रोत्साहन योजना एवं शोध अनुदान वितरण का भी शुभारंभ किया
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उच्च शिक्षा विभाग के अन्तर्गत एनएसई की गौरव योजना का शुभारंभ किया

विधायक के खिलाफ तहरीर देने वाले एसडीएम को शासन ने हटाया

देहरादून, न्यूज़ आई । बीजेपी विधायक पुरोला दुर्गेश्वर लाल के खिलाफ थाने में तहरीर देने वाले एसडीएम सोहन सिंह सैनी को शासन ने हटा दिया है। एसडीएम ने विधायक पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए तहरीर दी थी। विवाद बढ़ने पर शासन ने रविवार का दिन होने के बावजूद एसडीएम को कमिश्नर गढ़वाल ऑफिस अटैच किए जाने के आदेश किए।
एसडीएम और विधायक के खिलाफ विवाद चल रहा था। एसडीएम ने विधायक पर जान से मारने की धमकी देने, छवि धूमिल करने, एससी, एसटी ऐक्ट में केस दर्ज कराने की धमकी देने का आरोप लगाया था। पुरोला बाजार में भी अभद्रता करने और समर्थकों के सोशल मीडिया पर छवि खराब करने का आरोप लगाया। विधायक, एसडीएम के बीच का ये विवाद शनिवार और रविवार को सोशल मीडिया पर छाया रहा। समर्थक एसडीएम के खिलाफ मोर्चा खोले रहे। एसडीएम के विधायक के खिलाफ ही तहरीर देने से खासी किरकिरी भी हुई। इस घटना को गंभीरता से लेते हुए शासन स्तर से डैमेज कंट्रोल के प्रयास शुरू हुए। दोपहर बाद कार्मिक विभाग की ओर से एसडीएम को हटाने के आदेश जारी कर दिए गए। उन्हें किसी नई तहसील की जिम्मेदारी देने की बजाय सीधे कमिश्नर गढ़वाल कार्यालय पौड़ी से अटैच किया गया। एसडीएम का वेतन अब कमिश्नर पौड़ी कार्यालय से ही जारी होगा।