Breaking News
  • मानसून के दृष्टिगत मरीजों और गर्भवती महिलाओं के लिए आपातकालीन स्थिति में हेली एम्बुलेंस की व्यवस्था रखी जाए
  • 15 जून से पहले मानसून के दृष्टिगत सभी तैयारियां पूर्ण की जाए- मुख्यमंत्री
  • अजय टम्टा को मोदी सरकार में मिली बड़ी जिम्मेदारी, बने केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राज्य मंत्री
  • अजय टम्टा कुमाऊं से केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले छठे सांसद
  • बुजुर्ग की लाठी बने सीएम धामी, पुष्कर धामी ने तुरंत किया समस्या का समाधान !

75 न्यूट्री स्मार्ट विलेज के माध्यम से गांवों में पोषकता बढ़ाने की श्रृंखला बनाई जानी चाहिए: कृषि मंत्री

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर कहा कि एक भारत-श्रेष्ठ भारत बनाने के लिए हमारी कोई भी माताएं-बहनें और बच्चे कुपोषित नहीं रहने चाहिए, यह सभी का संयुक्त दायित्व है।
तोमर ने बुधवार को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के अंतर्गत केंद्रीय कृषिरत महिला संस्थान, भुवनेश्वर के पोषण अभियान के तहत 13 राज्यों के 23 जिलों में ‘75 न्यूट्री स्मार्ट विलेज’ कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कहा कि भारत के प्रयासों से ही संयुक्त राष्ट्र संघ ने वर्ष 2023 को इंटरनेशनल ईयर ऑफ मिलेट्स घोषित किया है।
तोमर ने कहा कि इन 75 न्यूट्री स्मार्ट विलेज के माध्यम से गांवों में पोषकता बढ़ाने की श्रृंखला बनाई जानी चाहिए। इन गांवों में प्रकृति प्रदत्त वस्तुओं को बढ़ावा देने के साथ ही प्राकृतिक और बेहतर किस्म के बीजों का वितरण किए जाएं, ताकि आगे सभी उपज भी पोषकता से भरपूर हों। मंत्री ने मोटा अनाज पीडीएस से वितरित करने के संबंध में राज्य स्तर पर जागरूकता लाने की अपील भी की।
उल्लेखनीय है कि ओडिशा के पुरी, खोरधा, कटक व जगतसिंहपुर में यह कार्यक्रम शुरू किया जाएगा।