Breaking News
  • 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में उत्तराखण्ड को मिला Most Film Friendly State (Special Mention) पुरस्कार
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को लच्छीवाला नेचर पार्क में राज्य वन्यजीव सप्ताह 2022 का शुभारंभ किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से फिल्म अभिनेता  नाना पाटेकर ने शिष्टाचार भेंट की, इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने नाना पाटेकर को पहनाई पहाड़ी टोपी 
  • उत्तराखण्ड में फिल्म निर्माता-निर्देशकों को राज्य सरकार से मिला प्रोत्साहन – बंशीधर तिवारी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने श्रीकोट पहुँचकर अंकिता भंडारी के परिजनों से घर पर जाकर की मुलाकात

एम्स ऋषिकेश में हुई नियुक्तियों को लेकर सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने किया प्रदर्शन

देहरादून, न्यूज़ आई : एम्स ऋषिकेश में हुई 800 नियुक्तियों जिनमें 600 नियुक्तियां एक ही राज्य से करने के विरोध में सरस्वती विहार चौक अजबपुर में क्षेत्र की जनता एवं सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों ने प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने सभी नियुक्तियों को निरस्त करने की मांग की और इस घोटाले में लिप्त डायरेक्टर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और केंद्र सरकार की भूमिका को भी जांच के दायरे में लाने की मांग की।
वक्ताओं ने आंदोलन को पूरे उत्तराखंड में करने की अपील की और आने वाले समय आंदोलन को बिभिन्न संगठनों से पुरजोर समर्थन देने का आह्वान किया। प्रदर्शन में त्रिलोक सिंह सजवाण, गड़वाल सभा के अध्यक्ष, रोशन धस्माना, गढ़वाल सभा की उपाध्यक्ष एवं महिला मंच की श्रीमती निर्मला बिष्ट, गड़वाल सभा के महासचिव गजेंद्र सिंह भंडारी, कांग्रेस नेता, विनोद चौहान, कर्मचारी संघटन के अध्यक्ष पंचम सिंह बिष्ट, विजय गुप्ता, सरस्वती विहार विकास समिति के उपाध्यक्ष बी एस चौहान, समिति के मंत्री, सुबोध मैठाणी, आशीष गुसाईं, सत्येंद्र उनियाल, पुष्कर सिंह भंडारी, मानवेन्द्र बर्त्वाल, दीपक काला, पुष्कर गुसाईं, राम सिंह सजवान, पुष्कर सिंह नेगी, दिनेश चंद्र भट्ट मोहित भट्ट विनय बडोनी हेमलता नेगी सहित क्षेत्रवासी महिलाओं एवं नौजवानों ने नियुक्तियों के विरोध में प्रदर्शन किया।