Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने एनएचपीसी के अधिकारियों को दिए निर्देश, अलर्ट जारी करने के बाद ही नदी में छोड़ें पानी
  • मुख्यमंत्री ने टनकपुर, बनबसा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया स्थलीय व हवाई निरीक्षण, बाढ़ प्रभावितों से मिलकर सुनी समस्याएं
  • सैन्य भूमि उत्तराखण्ड वीर सैनिकों को जन्म देने वाली भूमि है-मुख्यमंत्री
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नम आंखों से दी उत्तराखंड के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि
  • महासू मंदिर, हनोल के मास्टर प्लान को मंजूरी प्रदान करने पर क्षेत्रीय निवासियों ने मुख्यमंत्री से भेंट कर जताया आभार

मुख्यमंत्री योगी ने चमोली में ग्लेशियर टूटने की घटना पर की उच्च स्तरीय बैठक

लखनऊ. उत्तराखंड के चमोली जिले में रविवार को आई तबाही ने कई लोगों की जान ले ली. इसके अलावा सैकड़ों लोग ऐसे हैं जिनका अभी तक पता नहीं चल सका है. तपोवन में एक लंबी सुरंग में अभी कुछ लोगों के फंसे होने की आशंका है, जिन्हें निकालने के लिए दिन-रात रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इस हादसे के बाद 170 से ज्यादा लोग लापता हैं. लापता लोगों में अलग-अलग जगहों पर चल रहे प्रोजेक्ट में काम कर रहे सैकड़ों मजदूर और स्थानीय लोग शामिल हैं. इस हादसे में उत्तराखंड के अलावा यूपी के भी कई लोग लापता बताए जा रहे हैं. खबर के मुताबिक, यूपी के अलग-अलग जिलों से करीब 38 लोग लापता हैं. इसके अलावा कहा जा रहा है कि मृतकों में भी यूपी के कुछ लोग शामिल हो सकते हैं.
इस हादसे को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ भी पल-पल की जानकारी ले रहे हैं. सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर चमोली में ग्लेशियर टूटने की घटना पर उच्च स्तरीय बैठक की. बैठक में सीएम ने आपदा में हर संभव सहायता देने का निर्देश दिया. अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि राजस्व विभाग का जो कंट्रोल रूम स्थापित है इसका एक टोल फ्री नंबर 1070 और इसका व्हाट्सएप नंबर 9454441036 है. कोई भी परिवार जिनके सदस्य वहां काम कर रहे थे यदि वो लापता हैं तो वे इस नंबर पर सूचना दे सकते हैं.