Breaking News
  • एचआईवी संक्रमण मुक्त उत्तराखंड को लेकर गंभीर धामी सरकार
  • एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद
  • उत्तराखंड में धर्मांतरण पर बना सख्त कानून, देशभर के साधु-संतों में हर्ष की लहर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिल रही शुभकामनाएं
  • प्रदेश में धर्मान्तरण पर रोक सम्बंधित कानून बना
  • महिलाओं को सरकारी नौकरियों के क्षैतिज आरक्षण का बना कानून

नेता प्रतिपक्ष बनने के लिए आपस में लड़ रहे कांग्रेसी नेता: चौहान

देहरादून, न्यूज़ आई । भाजपा मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान ने कॉंग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, “नेता प्रतिपक्ष के चुनाव को लेकर कॉंग्रेस में मची सिर फुटौवल से एक मर्तबा पुनः स्पष्ट हो गया कि जनता का उन्हें सबक सिखाने का चुनावी निर्णय सही था”।
चौहान ने कॉंग्रेस पर व्यंग कसते हुए कहा कि भाजपा सरकार का गठन और विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव भी हो गया लेकिन कॉंग्रेस पार्टी अभी भी चुनावी मोड से बाहर नहीं आ पायी है। बस अंतर इतना है कि पहले कांग्रेसी नेता विधानसभा चुनाव के लिए दूसरी पार्टियों से लड़ रहे थे अब नेता प्रतिपक्ष बनने के लिए आपस में लड़ रहे हैं। लोकतांत्रिक प्रक्रिया के महत्वपूर्ण पद को नाम चयन में की जा रही देरी स्पष्ट करता है कि जिम्मेदार दायित्वों को लेकर कॉंग्रेस पार्टी का रवैया गैरजिम्मेदाराना ही रहता है। देवभूमि के बुद्धिमान मतदाताओं को कॉंग्रेस पार्टी और उनकी सुविधावादी सोच का बखूबी अंदाज़ा है तभी लगातार दूसरी बार उन्हे शर्मनाक पराजय का मुंह दिखाया। कॉंग्रेस पार्टी के अंदर के असमंजस और घमासान ने  जाहिर कर दिया है कि चुनाव में जनता का निर्णय एकदम सही था वहीं दूसरी और एक बार फिर सामने आ गया कि कॉंग्रेस पार्टी और उनके नेता कभी भी सुधरने वाले नहीं हैं।