Breaking News
  • ऋषिकेश की चिला नहर से मिला अंकिता का शव, हत्याकांड की जांच करेगी एसआईटी, सीएम पुष्कर सिंह धामी ने दिये ये निर्देश
  • आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत मुख्यमंत्री ने विभिन्न चिकित्सालयों, चिकित्सकों एवं आरोग्य मित्र आदि को किया सम्मानित
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लघु उद्योग भारती द्वारा आयोजित उत्तराखण्ड उद्यमी व श्रमिक सम्मान समारोह में प्रतिभाग किया
  • उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग ने प्रथम चरण की परीक्षाओं का कैलेण्डर निर्धारित किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की अध्यक्षता में किशाऊ बांध बहुद्देशीय परियोजना पर आयोजित बैठक में किया प्रतिभाग

कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मिला, सौंपा शिकायती पत्र

देहरादून, न्यूज़ आई। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधिमण्डल ने प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के नेतृत्व में मुख्य निर्वाचन अधिकारी से उनके कार्यालय में मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन प्रेषित किये। प्रदेश कांग्रेस महासचिव संगठन एवं वरिष्ठ प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने बताया कि मुख्य निर्वाचन अधिकारी को सौंपे एक ज्ञापन में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने आरोप लगाते हुए कहा है कि वर्तमान विधानसभा चुनाव में निर्वाचन आयोग द्वारा दिव्यांग, 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग एवं अशक्तजनों की सुविधा हेतु मतपत्रों की छपाई कर ऐसे मतदाताओं के घर पर जाकर मतदान की व्यवस्था सुनिश्चित की गई थी। साथ ही जो शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारी चुनाव ड्यूटी पर तैनात किये गये थे उन्हें भी डाक मतपत्रों के माध्यम से मतदान करने की सुविधा दी गई है। परन्तु पौड़ी गढ़वाल सहित कई अन्य जनपदों से यह सूचना आई है कि दिव्यांग, 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग एवं अशक्तजनों हेतु छपवाये गये मतपत्र उन मतदाताओं तक न पहुंचकर इन मत पत्रों का दुरूपयोग भाजपा के पक्ष में किया गया है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी पौड़ी गढ़वाल से उनके द्वारा स्वयं कई बार वार्ता करने के उपरान्त भी कोई समाधान प्राप्त नहीं हो पाया।
गणेश गोदियाल ने यह भी आरोप लगाते हुए कहा कि मतदान ड्यूटी पर तैनात कर्मियों के डाक मतपत्रों के सम्बन्ध में भी यही शिकायत प्राप्त हुई है कि कई ऐसे कर्मचारियों, जिन्होंने डाक मतपत्र हेतु आवेदन किया है उन्हें डाक मतपत्र आवंटित नहीं किये गये हैं। साथ ही कई जनपदों से ऐसी भी शिकायत है कि ऐसे कई कर्मियों को मतपत्र प्राप्त करने हेतु जारी प्रार्थना पत्र आवंटित नहीं किये जा रहे हैं जो कि निष्पक्ष मतदान को परिलक्षित नहीं करता है। कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने निर्वाचन आयोग से इन मतपत्रों का दुरूपयोग रोकने हेतु जिलाधिकारी पौडी गढ़वाल के साथ-साथ अन्य सभी जिलाधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी करने की मांग की। एक अन्य ज्ञापन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की कि हरिद्वार जनपद में होने वाले आगामी पंचायत चुनावों के मद्देनजर शासन स्तर से परिसीमन एवं आरक्षण की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश जारी किये गये हैं, जबकि प्रदेश में विधानसभा चुनाव की प्रक्रिया अभी समाप्त नहीं हुई है तथा राज्य में विधानसभा चुनावों हेतु जारी आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार जनपद में इस प्रकार की कार्यवाही आदर्श चुनाव आचार संहिता का खुला उलंघन है। कंाग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने मांग की कि प्रदेश में जारी चुनाव प्रक्रिया के मद्देनजर लगाई गई आदर्श चुनाव आचार संहिता की अवधि समाप्त होने तक हरिद्वार जनपद में पंचायत चुनाव हेतु परिसीमन एवं आरक्षण की प्रक्रिया पर तुरन्त रोक लगाई जाय। प्रतिनिधिमण्डल में प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट, प्रदेश महासचिव संगठन मथुरादत्त जोशी, प्रदेश महासचिव प्रदीप तिवारी, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी आदि शामिल थे। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल को आश्वासन दिया गया कि उपरोक्त मामले में उचित कार्रवाई के निर्देश दिये जा रहे हैं तथा हरिद्वार में त्रि स्तरीय पंचायत चुनावों हेतु आरक्षण एवं आवंटन की कार्यवाही को स्थगित कर करने के भी निर्देश दिये गये हैं।