Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने सचिवालय में रेल विकास निगम के अधिकारियों से ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन प्रोजक्ट की कार्य प्रगति की जानकारी ली
  • मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत संचालित की जाने वाले 05 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झण्डी दिखाई एवं स्मार्ट टॉयलेट का लोकार्पण किया
  • मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड आयुर्वेदिक विश्व विद्यालय परिसर में किया योगाभ्यास
  • स्वदेशी जागरण मंच द्वारा कोरोना वैक्सीन को पेटेंट मुक्त कराने के लिए चलाए जा रहे अभियान का मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया समर्थन
  • मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने छावनी परिषद् गढ़ी कैन्ट में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त पुनर्निर्मित केन्टोनमेंट जनरल हॉस्पिटल का शुभारम्भ किया

कोरोना को लेकर पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार को दिए निर्देश

कोरोना की दूसरी लहर की वजह से बिहार में लगातार मामले बढ़ रहे हैं. जिसके बाद राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. जिसके बाद पटना हाईकोर्ट लगातार इस मामले सुनवाई कर रही है. इस मामले पर चीफ जस्टिस संजय करोल की खंडपीठ ने जनहित याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सरकार को निर्देश जारी किये हैं.
पटना हाईकोर्ट ने सरकार को निर्देश देते हुए कहा कि राज्य सरकार ऑक्सीजन, बेड और दवाओं की उपलब्धता का विस्तृत ब्यौरा दें. इसके अलावा कोर्ट ने राज्य सरकार को बताने को कहा कि डॉक्टर, नर्सों व मेडिकल स्टाफ की बहाली के लिए क्या कार्रवाई हो रही है. इसके अलावा सरकार ने कोर्ट को बताया कि कोरोना की जांच के बाद RT- PCR रिपोर्ट देने में विलंब हो रहा है. इस मामले पर कोर्ट अगली सुनवाई 12 मई को करेगी.