Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने की विद्यालयी शिक्षा विभाग की समीक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिये जाने के दिये निर्देश
  • छात्रों को अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर शिक्षा प्रदान करने के लिये विद्यालयों में अंग्रेजी एवं कम्प्यूटर के गेस्ट टीचरों की, की जायेगी व्यवस्था
  • प्रदेश में कक्षा 9 से 12 तक के सभी वर्गों के छात्रों को भी अगले वर्ष से निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी पाठ्य पुस्तकें
  • मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग द्वारा आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वाणिज्य उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया
  • मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने “अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद“ के अध्यक्ष श्री महंत नरेन्द्र गिरी के निधन पर शोक व्यक्त किया

सीएम धामी की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट बैठक में गूंजा ऊर्जा कर्मियों की हड़ताल का मुद्दा

देहरादून, न्यूज़ आई: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट की बैठक संपन्न हो गई है। हालांकि, इस बैठक में कई अहम प्रस्ताव पर मुहर लगी है। कैबिनेट बैठक के सम्मुख कुल 11 प्रस्ताव सामने आए थे, जिसमें से 9 प्रस्तावो पर मुहर लग गई है। ऊर्जा कर्मचारियों की हड़ताल की गूंज सचिवालय में आयोजित राज्य कैबिनेट की बैठक में भी सुनाई दी है। जहां ऊर्जा मंत्री हरक सिंह रावत की मांग पर कैबिनेट ने संज्ञान लेकर पूर्व मुख्यसचिव इंदु कुमार पांडेय की अध्यक्षता में समिति का गठन कर दिया है। कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि ऊर्जा कर्मियों के अलावा कई अन्य विभागों के कर्मचारी भी वेतन विसंगति को लेकर आवाज उठा रहे है। साथ ही बैठक में ऊर्जा मंत्री हरक सिंह रावत ने पुरजोर तरीके से ऊर्जा कर्मियों के हड़ताल पर जाने का मुद्दा उठाया। जिसकी गंभीरता को देखते हुए राज्य कैबिनेट ने पूर्व मुख्यसचिव इंदु कुमार पांडेय की अध्यक्षता में चार सदस्य समिति का गठन किया है। जो अधिकतम तीन माह के भीतर अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगी।