Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने ऋषिकेश पहुंचकर चारधाम यात्रा रजिस्ट्रेशन कार्यालय का किया स्थलीय निरीक्षण
  • मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार पहली बार राज्य सरकार की ओर से जवानों का कराया गया है 10 लाख रुपये तक का बीमा, राशन भी कराया जा रहा उपलब्ध
  • केदारनाथ धाम यात्रा मार्ग में अपने कार्यों से यात्रियों का दिल जीत रहे पीआरडी जवान
  • तीर्थाटन और पर्यटन मार्गों पर पार्किंग और मूलभूत सुविधाओं की समुचित व्यवस्था की जाए।
  • श्रद्धालुओं को सभी सुविधाएं एक ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध करायेगा ‘यात्रा समाधान’ मोबाइल एप्लीकेशन

हिंदी फिल्में तेलुगु फिल्मों जितना कारोबार नहीं कर पा रही हैं: करण जौहर

हैदराबाद। बॉलीवुड फिल्म निर्माता करण जौहर ने दक्षिण भारतीय सिनेमा, विशेष रूप से तेलुगु फिल्मों पर अपने विचारों के साथ एक अखिल भारतीय फिल्म क्या है, इस पर चर्चा की है। करण मानते हैं कि हाल के दिनों में हिंदी फिल्में तेलुगु फिल्मों जितना कारोबार नहीं कर रही हैं। उन्होंने तेलुगु फिल्मों की व्यावसायिक सहनशक्ति को समझाने के लिए अल्लू अर्जुन की हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘पुष्पा’ का उदाहरण भी दिया।
बॉलीवुड निर्देशक ने कहा कि बिना किसी प्रचार के, अल्लू अर्जुन की ‘पुष्पा’ को केवल कुछ पोस्टर और ट्रेलर के साथ रिलीज किया गया था। भले ही अल्लू अर्जुन को उत्तर में लोग कम जानते है, लेकिन फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर बहुत पैसा कमाया है।
करण ने कहा कि एक ‘पैन-इंडिया फिल्म’ की पूरी शब्दावली एस.एस. राजामौली की ‘बाहुबली’ से शुरू होती है। उन्होंने कहा कि ‘बाहुबली 1’ ने 112 करोड़ रुपये का कारोबार किया था, जबकि राजामौली की पिछली फिल्म ‘मक्की’ ने हिंदी में सिर्फ 1 करोड़ रुपये कमाए थे।