Breaking News
  • एचआईवी संक्रमण मुक्त उत्तराखंड को लेकर गंभीर धामी सरकार
  • एक्शन में स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश कुमार, उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग में जल्द भरें जायेंगे खाली पड़े पद
  • उत्तराखंड में धर्मांतरण पर बना सख्त कानून, देशभर के साधु-संतों में हर्ष की लहर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिल रही शुभकामनाएं
  • प्रदेश में धर्मान्तरण पर रोक सम्बंधित कानून बना
  • महिलाओं को सरकारी नौकरियों के क्षैतिज आरक्षण का बना कानून

सांसद निधि के 10 करोड़ रुपए (5करोड़ प्रति वर्ष) पीएम केयर फंड में दिये गए : बंसल

देहरादून, न्यूज़ आई: सासंद राज्य सभा नरेश बंसल ने सभी को कोरोना काल मे कोविड गाइडलाइन का पालन करने को कहा। उन्होंने सभी से निवेदन किया की दवाई, कड़ाई बहुत जरूरी है। सभी मास्क लगाए एवं समय-समय पर सेनेटाईजर का प्रयोग करे और दो गज की दूरी बनाए यही कोरोना को हराने का मूल मंत्र है।
सासंद बंसल ने कहा कि कोरोना वारियर्स के रुप मे कार्य करने वाले डाक्टर, नर्स, पुलिस,स्टाफ आदी का सम्मान करे व जो संभव मदद हो सके व दूसरों की करे,जैसे प्लाज्मा दान करे, आक्सीजन सिलेन्डर जरूरत पुर्ण होने पर किसी और को दे। उन्होंने बताया कि वह भी सभी लोग जो मदद के लिए सैकड़ों फोन करते हैं ,उनकी हर संभव मदद करते है।
सासंद राज्य सभा नरेश बंसल ने कहा कि मेरी वर्ष 2020-21 व 2021-22 वर्ष की सासंद निधि 10 करोड़ (5 करोड़ प्रति वर्ष ) पहलें से ही कोवीड-19 हेतु #PMCaresFund मे दिए जानें की वजह से कोई निधि नही है। यह संतोष का विषय है कि राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर उस निधि का अच्छा प्रयोग यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत सरकार द्वारा कोरोना की लड़ाई मे हो रहा है ।
सांसद नरेश बंसल ने कहा कि मेरा निर्वाचन वर्ष 20-21 मे हुआ है। बाकी सांसद अपनी 19-20 कि निधि से जन सेवा कर रहे हैं ।
उन्होंने कहा कि इसके इलावा खुद की निधि न होने के बावजूद गढ़ी कैंट की सीईओ तनु जैन के द्वारा निवेदन पर 200 केविए का डी जी सेट सांसद अनिल बलुनी जी से अनुरोध किया उन्होंने तत्काल अपनी 19-20 की निधि से उपलब्ध कराया। इसके अलावा मदद के लिए सैकड़ों फोन आते है किसी को बैड,आई सी यू बैड, वैनटीलेटर बैड,आक्सीजन सिलेन्डर, आदी की आवश्यकता होती है उनकी मदद कर रहे है।उसका प्रचार नही होता।
सासंद ने बताया कि उन्होंने देहरादून, हरिद्वार ,पौड़ी जिलों मे 16 टीकाकरण केंद्र पर जाकर हेल्प डेस्क की स्थापना व आनें वाले जन समुदाय की मदद की एवं फल, पानी आदी वितरित किया ।