Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दुग्ध संघों के निर्वाचित पदाधिकारियों को दिलाई शपथ
  • मुख्यमंत्री ने किया फिल्म आर्टिकल 370 का अवलोकन
  • बीओसीडब्ल्यू में पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को पॉलिटेक्निक और आईटीआई में मिलेगी निःशुल्क पढ़ाई
  • बीओसीडब्ल्यू में पंजीकृत श्रमिकों और आश्रितों को सरकार की बड़ी सौगात
  • ऊर्जा प्रदेश कहे जाने वाले उत्तराखण्ड में प्रदेश सरकार बिजली उपभोक्ताओं से जुड़ी सेवाओं को लगातार बेहतर करने के प्रयास में जुटी हुई है

भारत ने महिला एशिया कप के फाइनल में श्रीलंका को 8 विकेट से हराकर रिकॉर्ड सातवीं बार खिताब अपने नाम किया

 (स्पोर्ट्स डेस्क) । गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत भारत ने महिला एशिया कप के फाइनल में श्रीलंका को 8 विकेट से हराकर रिकॉर्ड सातवीं बार खिताब अपने नाम किया। श्रीलंका ने इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 9 विकेट पर 65 रन बनाए, जवाब में भारत ने 8.3 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 71 रन बनाकर मैच जीत लिया। 66 रनों के छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को स्मृति मंधाना और शेफाली वर्मा ने तेज शुरूआत दिलाई। विशेषकर मंधाना ने काफी आक्रामक रूख अपनाया। दोनों ने 3.3 ओवर में 32 रन जोड़े। इसी स्कोर पर शेफाली 5 रन बनाकर इनोका रानाविरा की शिकार बनीं। इसके बाद बल्लेबाजी करने आईं जेमिमाह रोड्रिगेज कुछ खास नहीं कर सकीं और केवल 2 रन बनाकर कविशा दिलहारी का शिकार बनीं। हालांकि यहां से स्मृति मंधाना और कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कोई और नुकसान नहीं होने दिया और 8.3 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 71 रन बनाकर भारत को जीत दिला दी।