Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रीज्योतिरादित्य सिंधिया से भेंट कर उत्तराखण्ड में हवाई सेवाओं की मजबूती पर चर्चा की
  • उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौड़ की हवाई सेवा
  • लाल बहादुर शास्त्री अकादमी में आयोजित चिंतन शिविर में राज्य के विकास के लिए अनेक विषयों पर चर्चा हुई: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी (अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी, मसूरी में सशक्त उत्तराखंड @25 चिंतन शिविर में किया प्रतिभाग

मुजफ्फरनगर महापंचायत में उमडा भारी जनसैलाब !

मुजफ्फरनगर। तीन कृषि कानूनों के विरोध में जीआईसी मैदान पर आयोजित किसान महापंचायत में रिकार्डतोड भीड उमडी और चारों तरफ सिर ही सिर दिखाई दिये। जीआईसी मैदान से लेकर बाहर सडकों तक भारी जनसैलाब उमडा और शहर में भी हर जगह भीड दिखाई दी। इस दौरान पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिये मुस्तैद दिखाई दिये। पंचायत स्थल पर बने विशाल पंडाल को वाटरप्रूफ बनाया गया और मंच पर वक्ताओं ने लगातार भाषण देकर केंद्र व प्रदेश सरकार पर ज़ोरदार हमला किया।
मंच संचालन भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी युद्धवीर सिंह ने किया। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले भाकियू समेत 40 किसान संगठनों ने पंचायत में भागीदारी की। मंच पर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने भारी जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि किसान पीढी के भविष्य के लिये यह आवाज उठानी पड रही है। केन्द्र सरकार ने किसानों की जमीन उद्योगपतियों के नाम कर दी है और किसानों को भूखे मरने के लिये छोड दिया है। उन्होंने कहा कि अब किसान जाग गया है और अपना हक लेना जानता है। उन्होंने कहा कि भाजपा तोडने का कम करती है, जबकि हम लोगों को जोड़ने का काम करते है। भारी जनसमूह को देखकर भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत गदगद नजर आये। उन्होने महापंचायत में पहुंचे सभी किसान भाईयों का धन्यवाद करते हुए कहा कि इस घडी में एकजुटता दिखाकर आप लोगों ने अपनी ताकत का अहसास केन्द्र व प्रदेश सरकार को कराया है और यदि तीनों कृषि कानून वापस नहीं हुए, तो इससे भी बडी महापंचायत कर सरकार को उखाड़ फेंकने का काम किसान करेगा। महापंचायत में लगातार रणसिंघा बजता रहा, जिससे किसानों में जोश आता रहा और लगातार जिंदाबाद के नारे लगते रहे। महापंचायत में भाकियू प्रवक्ता धर्मेन्द्र मलिक, बलबीर सिंह राजेवाल, जगजीत सिंह दलेवाल, दर्शन पाल सिंह, जोगिंदर सिंह, शिवकुमार शर्मा कक्का, हन्नान मौला, योगेंद्र यादव, युद्धवीर सिंह, आदि के अलावा कई खाप चौधरी व किसान नेता मौजूद रहे।