Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने सचिवालय में रेल विकास निगम के अधिकारियों से ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन प्रोजक्ट की कार्य प्रगति की जानकारी ली
  • मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत संचालित की जाने वाले 05 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झण्डी दिखाई एवं स्मार्ट टॉयलेट का लोकार्पण किया
  • मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड आयुर्वेदिक विश्व विद्यालय परिसर में किया योगाभ्यास
  • स्वदेशी जागरण मंच द्वारा कोरोना वैक्सीन को पेटेंट मुक्त कराने के लिए चलाए जा रहे अभियान का मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया समर्थन
  • मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने छावनी परिषद् गढ़ी कैन्ट में अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त पुनर्निर्मित केन्टोनमेंट जनरल हॉस्पिटल का शुभारम्भ किया

वैक्सीनेशन पर केजरीवाल ने दिए केन्द्र सरकार को चिट्ठी लिखकर सुझाव

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर कहा कि देश में वैक्सीन के प्रोडक्शन को बढ़ाने के लिए कोविड-19 रोधी टीके का निर्माण कर रही दो कंपनियों का ‘फॉर्मूला’ दूसरी कंपनियों के साथ साझा किया जाना चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि देश में टीकों की कमी है और युद्ध स्तर पर टीके का निर्माण बढ़ाने की जरूरत है. अगले कुछ महीनों में सभी को टीका लगाए जाने की नीति तैयार की जानी चाहिए.
पत्र में सीएम केजरीवाल ने कहा, “कोरोना की दूसरी लहर बहुत ही घातक साबित हो रही है. इस बार ये बीमारी गांव-गांव तक पहुंच गई है. बहुत बड़ी संख्या में लोगों की मृत्यु भी हो रही है. इसलिए जरूरी है कि जल्द से जल्द देश के सभी नागरिकों को वैक्सीन की डोज दे दी जाए. अभी भारत में दो कंपनी वैक्सीन का उत्पादन कर रही है. दो कंपनी के दम पर पूरे देश को वैक्सीन देना संभव नहीं होगा.”
केजरीवाल ने पत्र में आगे कहा, ”इसके लिए वैक्सीन का प्रोडक्शन युद्ध स्तर पर करना होगा. इसलिए देशहित में मेरी आपसे विनती है कि आप कोरोना की वैक्सीन के सार्वजनिक उत्पादन को इजाजत दें. केवल दो ही नहीं, देश की हर वो कंपनी वैक्सीन का उत्पादन करे जिसके पास सुरक्षित उत्पादन की क्षमता है.”