Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी प्रदेशवासियों से आहवाहन किया ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत सभी अपने घरों में तिरंगा लगायें
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी पार्क देहरादून में हर घर तिरंगा कार्यक्रम के अन्तर्गत आयोजित रैली/प्रभात फेरी में किया प्रतिभाग
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सहारनपुर चौक, देहरादून में टपकेश्वर महादेव की भव्य शोभायात्रा में प्रतिभाग किया
  • राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पतंजलि योगपीठ में आयोजित जड़ी-बूटी दिवस कार्यक्रम में किया प्रतिभाग
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर रक्षाबन्धन के दिन प्रदेश की महिलाओं को बसों में निःशुल्क यात्रा सुविधा प्रदान की जायेगी

मैं उस संगीत के लिए काम करता हूं जो मेरी रगों में है: बादशाह

नई दिल्ली। देश के शीर्ष रैपर्स में शामिल होने के बावजूद बादशाह जोर देकर कहते हैं कि वह स्टारडम के लिए काम नहीं करते। वह कहते हैं, इसी वजह से स्टारडम खोने का डर उन्हें कभी परेशान क्यों नहीं करता। बादशाह ने दावा किया, “मैं स्टारडम के लिए काम नहीं करता। मैं उस संगीत के लिए काम करता हूं जो मेरी रगों में है। मुझे पता है कि मैं इसे कभी नहीं खोऊंगा। यह मेरे लिए भगवान का उपहार है।”
उनके मुताबिक जीवन एक क्रूज की तरह है । पिछले कुछ सालों में उनके चार्टबस्टर्स में ‘मर्सी’, ‘पागल’, ‘डीजे वाले बाबू’, ‘अभी तो पार्टी शुरू हुई है’, ‘कर गई चुल’, ‘शी मूव इट लाइक’, ‘वखरा स्वैग’ शामिल हैं। ‘गर्मी’ और ‘गेंदा फूल’, के रूप में ये सिलसिला अभी तक जारी है। वह 2017, 2018 और 2019 में फोर्ब्स इंडिया के सेलिब्रिटी 100 में भारत में सबसे अधिक भुगतान पाने वाली हस्तियों में से एक के रूप में नजर आए। साहित्यिक चोरी के आरोपों और नकली विचारों की खरीद के विवाद, जिसने पिछले साल उन्हें परेशान किया था, उसको भी उन्होंने भुला दिया।