Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी द्वारा लिखित उपन्यास “भंवर एक प्रेम कहानी“ का विमोचन किया
  • सरकार तीर्थयात्रियों की सहायता हेतु तत्पर होकर कार्यकर रहीः मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थिति में उत्तराखण्ड सरकार और भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड के मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए
  • नमामि गंगे परियोजना के तहत राज्य के लिए 43 करोड़ की चार परियोजनाओं को मिली स्वीकृति
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में आयोजित बजट पूर्व संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया

कर्नल कोठियाल ने जताया प्रदेश की जनता का आभार, कहा 10 मार्च को आएंगे अप्रत्याशित नजीते

देहरादून, न्यूज़ आई । आम आदमी पार्टी के सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल ने लोकतंत्र के महापर्व के सफल आयोजन पर प्रदेश की जनता का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के इस पर्व पर जनता ने अपने मत का पूर्ण इस्तेमाल किया है जिसका वो तहे दिल से स्वागत करते हैं। प्रदेश की सभी विधानसभाओं में लोगों में जबरदस्त उत्साह था जिसका नतीजा अच्छा मत प्रतिशत रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों ने एक उम्मीद और बदलाव के नाम पर मतदान किया है।
उन्होंने कहा कि मैं भी गंगोत्री विधानसभा में मतदान करने पहुंचा था जहां मैंने अपना वोट उत्तराखंड के बेहतर स्कूलों ,महिलाओं के हक,सैनिकों के सम्मान और उत्तराखंड की परिसंपत्तियों को वापस दिलाने के लिए वोट किया। उन्होंने कहा कि जनता ने इस बार अपने परिवार के भविष्य और उत्तराखंड के नवनिर्माण के लिए वोट दिया। कर्नल ने आगे कहा कि जनता बहुत समय से बदलाव की बयार देख रही थी और कोई विकल्प ना होने के चलते जनता को मजबूरी में अपना वोट देना पडता था। लेकिन हमें यकीन है कि अबकी बार जनता ने अपने मत का इस्तेमाल सोच समझ कर किया है और जो नतीजे 10 मार्च को आएंगे वो नतीजे अप्रत्याशित होंगे। उन्होंने कहा कि जनता ने बता दिया है कि उनके वोट में कितनी ताकत है और आज जनता ने जैसा भी जनादेश दिया होगा वो सर्वमान्य होगा। उन्होंने आगे कहा कि आप पार्टी काम की राजनीति करती है और भविष्य में भी आप पार्टी प्रदेश के नवनिर्माण और जनता के ज्वलंत मुद्दों के लिए संघर्ष करती रहेगी। उन्होंने पुनः प्रदेश की जनता का आप पार्टी को वोट देने और समर्थन देने के लिए आभार जताया।