Breaking News
  • ज्यपाल लेफ्टिनेंट (से.नि.) जनरल गुरमीत सिंह ग्रीष्मकालीन प्रवास पर राजभवन नैनीताल पहुंचे।
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया 113.34 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण
  • मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने चारधाम यात्रा के सम्बन्ध में सम्बन्धित जनपदों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली बैठक
  • प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रेम चन्द अग्रवाल द्वारा शहरी विभाग के अन्तर्गत देहादून स्मार्ट सिटी के सम्बन्ध में विधान सभा में बैठक ली
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी द्वारा लिखित उपन्यास “भंवर एक प्रेम कहानी“ का विमोचन किया

जन सेवा हमारा भाव, उत्तराखण्ड का समग्र विकास हमारा ध्येयः सीएम

देहरादून, न्यूज़ आई: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित जनता मिलन हॉल में आयोजित युवा संवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे युवाओं का भविष्य उज्ज्वल हो, उन्हें रोजगार, स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध हों इसके लिये राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है। युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये लगभग 24 हजार सरकारी विभागों में उपलब्ध पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया प्रारम्भ की गई है। युवाओं को समूह ‘ग’ की परीक्षा में शामिल होने के लिये अधिकतम आयु सीमा में एक साल की छूट दी गई है। भर्ती हेतु आवेदन शुल्क को माफ किया गया है। युवाओं को अधिक से अधिक स्वरोजगार से जोड़ने के लिये विभिन्न क्षेत्रों में कैम्पों का आयोजन का फार्म जमा करने तथा उनकी स्वीकृति प्रक्रिया की कार्यवाही पूर्ण करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है। युवाओं की मनोस्थिति से वे परिचित हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के कारण प्रभावित हुए पर्यटन आदि क्षेत्रों में स्वरोजगार से जुड़े लोगों के लिये राहत पैकेज स्वीकार किया गया है। उत्तराखण्ड हर क्षेत्र में आगे बढे, देश के अग्रणी राज्यों में हमारे राज्य का नाम हो इसके लिये हम निरंतर प्रयासरत हैं। जनसेवा का हमारा भाव है। उत्तराखण्ड का समग्र विकास ही हमारा ध्येय है। सरलीकरण, समाधान, निस्तारण और संतुष्टि का मंत्र लेकर हम अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। राज्यहित में जो भी अच्छा होगा वह हम करेंगे।
मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं द्वारा रखे गये सुझावों की सराहना करते हुए कहा कि राज्य हित में जो भी उपयोगी सुझाव होंगे उन पर बिना किसी भेदभाव के कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने इस प्रकार के आयोजनों को भी राज्य हित में बताया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि किशोर उपाध्याय ने कहा कि हमारी माता व बहनों के सिर का बोझ कम हो, युवाओं के सपने साकार हो, हमारे जल, जंगल की उपयोगिता का लाभ राज्य को मिले। राज्यवासियों को उनके हक हकूक मिलें, इस दिशा में पहल होनी चाहिए। उन्होंने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राज्य के विकास में सभी से सहयोगी बनने की अपेक्षा की।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, स्वामी यतीश्वरानंद, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, आदेश चौहान, राजीव शुक्ला, सुरेश राठौर, सुशीला बलूनी आदि उपस्थित थे।