Breaking News
  • मुख्यमंत्री ने एनएचपीसी के अधिकारियों को दिए निर्देश, अलर्ट जारी करने के बाद ही नदी में छोड़ें पानी
  • मुख्यमंत्री ने टनकपुर, बनबसा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया स्थलीय व हवाई निरीक्षण, बाढ़ प्रभावितों से मिलकर सुनी समस्याएं
  • सैन्य भूमि उत्तराखण्ड वीर सैनिकों को जन्म देने वाली भूमि है-मुख्यमंत्री
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नम आंखों से दी उत्तराखंड के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि
  • महासू मंदिर, हनोल के मास्टर प्लान को मंजूरी प्रदान करने पर क्षेत्रीय निवासियों ने मुख्यमंत्री से भेंट कर जताया आभार

26 जनवरी को निकलेगी ट्रैक्टर परेड: राकेश टिकैत

नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों के अमल पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है, लेकिन अब भी किसानों का प्रदर्शन जारी है और किसान लगातार कानूनों को वापस करने की मांग कर रहे हैं. इस बीच किसान संगठनों और सरकार के बीच शुक्रवार को 9वें दौर की बातचीत होनी है.
भारतीय किसान यूनियन के महासचिव राकेश टिकैत ने कहा, ‘सरकार से कल वार्ता के लिए जाएंगे. इसके साथ ही 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड निकालेंगे और हमें जितना आतंकवादी कहेंगे, उतनी तगड़ी परेड निकलेगी.’ उन्होंने कहा, ‘ट्रैक्टर रैली को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है. इसके बाद सोमवार को बात करेंगे. इसके बाद 23 जनवरी को देश के अलग-अलग राज्यों के गवर्नर का घेराव करेंगे.
केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि कोर्ट किसान संगठनों की गणतंत्र दिवस को प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली पर रोक लगाए, क्योंकि ऐसी रैली से विश्व में देश के सम्मान को ठेस पहुंचेगी. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया है और सोमवार को इस मामले की सुनवाई होगी. बता दें कि किसानों ने गणतंत्र दिवस पर दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में टैक्टर परेड निकालने की चेतावनी दी है. इससे पहले किसानों ने 7 जनवरी को दिल्ली के चारों तरफ ट्रैक्टर रैली निकाली थी.