Breaking News
  •  मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने प्रदेश के सभी कार्मिकों की एसीआर ऑनलाइन किए जाने के सम्बन्ध में निर्देश दिए
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर राज्यों और देवभूमि उत्तराखण्ड के बीच प्राचीन काल से ही एक अनूठा संबंध रहा
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि नार्थ ईस्ट के साथ उत्तराखण्ड की कई मामलों में समानता है
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि युवा उद्यमियों द्वारा कृषि-स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने के लिए कृषि कोष बनाया जाएगा
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ने बजट को बताया शानदार

देश में कोविड की दूसरी लहर के दौरान 594 डॉक्टरों ने गंवाई जान: आईएमए

भारत में कोविड 19 की दूसरी लहर ने आम इंसान के साथ साथ डॉक्टरों को भी नहीं बक्शा. कोविड से संक्रमित हो कर सैकड़ों डॉक्टरों की जान मरीजों का इलाज करते हुए चली गई है. पूरे भारत में अब तक 594 डॉक्टरों की कोविड के चलते मौत हुई है. इस बात की जानकारी इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने दी है. आईएमए ने कहा कि देश में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान 594 डॉक्टरों की मौत हुई है. आईएमए ने मरने वाले डॉक्टरों के आंकड़े शेयर कर बताया है कि मरने वाले 594 डॉक्टरों में से सबसे ज्यादा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में थे, जो इस चरण के दौरान भारत में सबसे ज्यादा प्रभावित हॉटस्पॉट में से एक बन गया था. जिसके बाद बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और झारखंड से भी मरने वाले डॉक्टरों का पता चला है. आईएमए के मुताबिक ये डेटा महामारी के मद्देनजर भारत में चिकित्सा समुदाय की दुर्दशा का एक विश्वसनीय अनुमान प्रदान करता है.