Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से कैम्प कार्यालय में महानगर भाजपा के प्रतिनिधियों ने भाजपा महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल के नेतृत्व में भेंट की
  • 1400 से अधिक शिकायतों का अब तक किया गया मौके पर निराकरण
  • मुख्यमंत्री के निर्देशों पर आयोजित हो रहे “विद्युत समस्या समाधान शिविर“ में आमजन की समस्याओं का प्राथमिकता पर हो रहा निस्तारण
  • मुख्यमंत्री ने लक्ष्मण विद्यालय इंटर कॉलेज, पथरीबाग में स्कूली बच्चों के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा- 2023’ कार्यक्रम में किया प्रतिभाग
  •  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से ‘परीक्षा पे चर्चा- 2023’ कार्यक्रम में देश के छात्र-छात्राओं, अध्यापकों एवं अभिभावकों से संवाद किया

दिल्ली की तरह उत्तराखंड में भी कांग्रेस का सूपड़ा होगा साफः दिनेश मोहनिया

देहरादून, न्यूज़ आई: आप प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने हरीश रावत के बयान पर पलटवार करते हुए कहा, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को दिल्ली की तरह उत्तराखंड को लेकर भी गलतफहमी हो गई है। उन्होंने कहा कि डूबते जहाज के कप्तान हरीश रावत को आप पार्टी की लोकप्रियता से अब डर लगने लगा है। उन्होंने कहा कि जनता कांग्रेस और बीजेपी दोनों के कुशाषन से परेशान हो चुकी है। हरीश रावत को गलतफहमी है कि यहां तीसरा दल राजनीति में नहीं आ सकता लेकिन जनता को आप पार्टी के प्रति बढता लगाव और प्रेम इस बात का सबूत है कि जनता अब आप पार्टी की सरकार बनाने जा रही है।
उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में आज कांग्रेस पार्टी का नाम लेने वाला कोई नहीं बचा है। वहां कांग्रेस शून्य पर सिमट चुकी है। दिल्ली की जनता ने 15 साल तक सत्ता में रही कांग्रेस के भ्रष्ट शासन से मुक्ति पाने के लिए आप पार्टी की सरकार बनाई और आप पार्टी के कामों से जनता इतना ज्यादा खुश है कि अब दिल्ली में विधानसभा में कांग्रेस का कोई भी प्रतिनिधित्व नहीं  है। उन्होंने कहा कि हरीश रावत भूल गए हैं  और उन्हें शायद इस बात की जानकारी नहीं है कि जनता अबकी बार काम के नाम पर वोट देने का मन बना चुकी है। अबकी बार जनता समस्याओं से निजात दिलाने वाली पार्टी को सत्ता में लाना चाहती है और आप पार्टी ही वो तीसरा और मजबूत विकल्प उत्तराखंड की जनता के पास है जिसकी दस्तक से कांग्रेस बीजेपी घबराए हुए हैं। उन्होंने कहा कि हम राज्य के शहीदों के सपने पूरे करके दिखाएंगे इस प्रदेश को बीजेपी और कांग्रेस मुक्त कर प्रदेश का नवनिर्माण करेंगे।