Breaking News
  • मानसून के दृष्टिगत मरीजों और गर्भवती महिलाओं के लिए आपातकालीन स्थिति में हेली एम्बुलेंस की व्यवस्था रखी जाए
  • 15 जून से पहले मानसून के दृष्टिगत सभी तैयारियां पूर्ण की जाए- मुख्यमंत्री
  • अजय टम्टा को मोदी सरकार में मिली बड़ी जिम्मेदारी, बने केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राज्य मंत्री
  • अजय टम्टा कुमाऊं से केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले छठे सांसद
  • बुजुर्ग की लाठी बने सीएम धामी, पुष्कर धामी ने तुरंत किया समस्या का समाधान !

सांसद अनिल बलूनी ने किया धनगढ़ी और पनौद नाले का निरीक्षण

देहरादून, न्यूज़ आई। उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी ने रामनगर के निकट धनगढ़ी नाले का निरीक्षण किया और प्रगति जानी। निरीक्षण में उनके साथ राष्ट्रीय राजमार्ग तथा वन विभाग के अधिकारी मौजूद थे। सांसद बलूनी ने कहा कि अगली बरसात से पहले यह पुल बनकर तैयार हो जाएगा और जनता को बरसात के मलवे के कारण लगने वाले जाम से निजात मिलेगी। यह प्रोजेक्ट सांसद बलूनी की प्राथमिकताओं में से एक है।
सांसद बलूनी के विशेष अनुरोध पर केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जी ने इस पुल को स्वीकृत किया था। धनगढ़ी और पनौद दोनों नालों के कारण प्रतिवर्ष अनेक दुर्घटनाएं होती थी। अनेक वाहन और नागरिक बरसात में बह जाते थे। प्रस्तावित पुल की कुल लागत 14 करोड़ है। जिसमें कि धनगढ़ी पुल 150 मीटर लंबा होगा और इस पर 7 करोड़ 65 लाख की लागत आएगी। पनौद नाले पर बनने वाले पुल की लंबाई 90 मीटर है और यह छह करोड़ 65 लाख की लागत से बनेगा। इस बीच कार्बेट प्रशासन ने पुल के निर्माण पर रोक लगा दी थी। हाल ही में पुल का निर्माण पुनः प्रारंभ हो गया है। सांसद बलूनी ने निरीक्षण के बाद कहा की इस पुल की महत्ता को देखते हुए इसका शीघ्र निर्माण आवश्यक है, ताकि आम जनता को सुगम यात्रा प्राप्त हो। गढ़वाल और कुमाऊं को जोड़ने वाला यह महत्वपूर्ण पुल है जो कि बरसात में अवरूद्ध हो कर समस्या बना रहता था। सांसद बलूनी के साथ निरीक्षण के समय कॉर्बेट पार्क की डिप्टी डायरेक्टर कल्याणी नेगी , पार्क वार्डन रमाकांत तिवारी, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिशासी अभियंता सुनील कुमार, उप जिलाधिकारी विजय नाथ शुक्ला, विवेक भाटी जी एवं भाजपा नेता मदन मोहन जोशी उपस्थित थे।