Breaking News
  • मानसून के दृष्टिगत मरीजों और गर्भवती महिलाओं के लिए आपातकालीन स्थिति में हेली एम्बुलेंस की व्यवस्था रखी जाए
  • 15 जून से पहले मानसून के दृष्टिगत सभी तैयारियां पूर्ण की जाए- मुख्यमंत्री
  • अजय टम्टा को मोदी सरकार में मिली बड़ी जिम्मेदारी, बने केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राज्य मंत्री
  • अजय टम्टा कुमाऊं से केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले छठे सांसद
  • बुजुर्ग की लाठी बने सीएम धामी, पुष्कर धामी ने तुरंत किया समस्या का समाधान !

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बार फिर मोदी सरकार को बनाया निशाना

चंडीगढ़-अपनी ही सरकार के खिलाफ अक्सर बोलने वाले मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एकबार फिर मोदी सरकार को निशाना बनाया है। सत्यपाल मलिक ने रविवार को हरियाणा के दादरी में एक कार्यक्रम में कहा कि जब वो कृषि कानूनों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले थे तो तब वो ‘घमंड’ में थे, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ उनकी बहस भी हो गई थी। मलिक ने कहा कि मैं जब किसानों के मामले में प्रधानमंत्री से मिलने गया तो मेरी पांच मिनट में उनसे लड़ी हो गई। वे बहुत घमंड में थे। मलिक ने केंद्र पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि मैं जब किसानों के मामले में प्रधानमंत्री से मिला तो मेरी 5 मिनट में ही उनसे लड़ाई हो गई। वो बहुत घमंड में थे। जब मैंने उनसे कहा, हमारे 500 लोग मर गए, तो उन्होंने कहा, मेरे लिए मरे हैं ? मैंने कहा आपके लिए ही तो मरे थे, क्योंकि आप राजा जो बने हुए हो, इसको लेकर मेरा उनसे झगड़ा हो गया। सत्यपाल मलिक ने आगे कहा कि पीएम ने कहा अब आप अमित शाह से मिल लो। जिसके बाद मैं अमित शाह से मिला। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आगे कहा कि केंद्र को कृषि कानूनों के विरोध के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने और फसलों के लिए MSP को कानूनी ढांचा देने के लिए ईमानदारी से काम करना होगा। उन्होंने कहा कि किसानों का आंदोलन