Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर विद्युत विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में विद्युत समस्या समाधान शिविर आयोजित किए जा रहे
  • शासन स्तर पर हर 15 दिन में समीक्षा की जाएः सीएम पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भर्ती परीक्षाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए
  • गणतंत्र दिवस पर मानसखण्ड पर आधारित झांकी का होगा प्रदर्शन, देश विदेश के लोग मानसखण्ड के साथ ही उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति से भी होंगे परिचित 
  • जोशीमठ आपदा प्रभावितों के रहने-खाने एवं ठंड से बचाव हेतु पर्याप्त संख्या में की गई हीटर, ब्लोअर, हॉट वाटर बॉटल आदि की व्यवस्था

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम ने किया बेहद खराब प्रदर्शन: गौतम गंभीर

मुंबई। न्यूजीलैंड के खिलाफ रविवार को महत्वपूर्ण मुकाबले में भारतीय टीम की हार के बाद पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि भारतीय टीम के पास कौशल की कमी नहीं है, लेकिन टीम मानसिक पर कमजोर है।
गौतम ने कहा कि भारतीय टीम के खिलाड़ी मानसिक तौर पर मजबूत नहीं हैं। उन्होंने कहा, “ सच कहूं तो मैं कभी भारतीय टीम के खेल और रणनीति को परखने को कभी नहीं समझ पाया। आपके पास प्रतिभा है, कौशल है। आप द्विपक्षीय सीरीज में बढ़िया खेलते हैं, लेकिन ऐसे बड़े टूर्नामेंट में आप को प्रदर्शन करना पड़ता है। यह मैच एक क्वार्टरफाइनल से कम नहीं था और हमने इस बारे में बात भी की है कि मुश्किल कहां है। मेरे हिसाब से शायद यह मनोबल की कमी है।
पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “ जब आपको अचानक करो या मरो की स्थिति में डाला जाता है तो आप कोई गलती नहीं कर सकते)। जब आप द्विपक्षीय सीरीज में खेलते हैं तो बात अलग होती है। आप एक मैच में चूक कर के भी वापसी कर सकते हैं, लेकिन ऐसे मैचों में मुझे नहीं लगता भारत मानसिक तौर पर मजबूत है। उनके पास कौशल है और द्विपक्षीय सीरीज में यह टीम बहुत खतरनाक है।
गौतम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के बारे में कहा यह सिर्फ निराशानजक हार नहीं थी, बल्कि एक बेहद खराब प्रदर्शन था और एक बार फिर भारतीय टीम को अपने बल्लेबाजों की वजह से हार मिली। पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में मैं मान सकता हूं। कि एक शानदार गेंदबाजी की वजह से भारतीय बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में ऐसा लगा कि हमारे खिलाड़ी किसी दबाव में खेल रहे थे या फिर नर्वस थे। अचानक से बल्लेबाजी क्रम में परिवर्तन करना भी मेरे लिए हैरान करने वाला फैसला थ