Breaking News
  • ऋषिकेश की चिला नहर से मिला अंकिता का शव, हत्याकांड की जांच करेगी एसआईटी, सीएम पुष्कर सिंह धामी ने दिये ये निर्देश
  • आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत मुख्यमंत्री ने विभिन्न चिकित्सालयों, चिकित्सकों एवं आरोग्य मित्र आदि को किया सम्मानित
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लघु उद्योग भारती द्वारा आयोजित उत्तराखण्ड उद्यमी व श्रमिक सम्मान समारोह में प्रतिभाग किया
  • उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग ने प्रथम चरण की परीक्षाओं का कैलेण्डर निर्धारित किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की अध्यक्षता में किशाऊ बांध बहुद्देशीय परियोजना पर आयोजित बैठक में किया प्रतिभाग

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रकाश सुमन ध्यानी की पुस्तक ‘विश्व इतिहास दर्शन’ का किया विमोचन

देहरादून, न्यूज़ आई: रविवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में श्री प्रकाश सुमन ध्यानी की भारतीय, यूनानी एवं चीनी दर्शन पर आधारित पुस्तक ‘विश्व इतिहास दर्शन” का विमोचन किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पुस्तक भारत सरकार की नई शिक्षा नीति को चरितार्थ करती है। पुस्तक में सिंकदर, चन्द्रगुप्त मौर्य, प्रथम व द्वितीय विश्व युद्ध तथा समस्त विश्व के पौराणिक धर्मों का वर्णन किया गया है। मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की कि यह पुस्तक छात्रों, युवाओं एवं बुद्धिजीवियों के लिये लाभदायक होगी। नई शिक्षा नीति के विचार को जन-जन तक पहुचाने में मददगार साबित होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुस्तक हमारे मस्तिष्क को खुराक पहुंचाने का काम करती है। उन्होंने कहा कि अपनी अनूठी पुस्तक में श्री ध्यानी जी ने गागर में सागर भरने का काम किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वे घोषणाएं नहीं काम करने में विश्वास करते हैं। जो भी काम शुरू किया है उसे पूरा करेंगे। सरकार टीम भावना से काम कर रही है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह ध्यानी ने कहा कि भाव में भगवान होते हैं। सर्वप्रथम देश आता है। सभी को अपना काम मनोयोग और ईमानदारी से करना है।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री गणेश जोशी, डॉ धन सिंह रावत, विधायक श्री हरबंस कपूर, मेयर श्री सुनील उनियाल गामा, महानिदेशक सूचना श्री रणवीर सिंह चौहान, निदेशक संस्कृति विभाग श्रीमती बीना भट्ट, श्री मनोहर सिंह रावत, श्रीमती अंजली ध्यानी, श्री दीपक खत्री, श्री अजीत चौधरी, विनसर पब्लिकेशन से कीर्ति नवानी आदि उपस्थित थे।