Breaking News
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर विद्युत विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में विद्युत समस्या समाधान शिविर आयोजित किए जा रहे
  • शासन स्तर पर हर 15 दिन में समीक्षा की जाएः सीएम पुष्कर सिंह धामी
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भर्ती परीक्षाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए
  • गणतंत्र दिवस पर मानसखण्ड पर आधारित झांकी का होगा प्रदर्शन, देश विदेश के लोग मानसखण्ड के साथ ही उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति से भी होंगे परिचित 
  • जोशीमठ आपदा प्रभावितों के रहने-खाने एवं ठंड से बचाव हेतु पर्याप्त संख्या में की गई हीटर, ब्लोअर, हॉट वाटर बॉटल आदि की व्यवस्था

सीएम ने किया निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण

देहरादून/हरिद्वार, न्यूज़ आई । मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जगजीतपुर क्षेत्र में बनाए जा रहे मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने अगले साल में अस्पताल का प्रथम चरण पूरा होने का दावा किया। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्माण कार्य में किसी भी तरह की कोताही न बरतने के निर्देश दिए।
सीएम धामी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज से जहां मेडिकल के छात्रों को एक अच्छा प्लेटफार्म मिलेगा तो वहीं क्षेत्र में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं भी मिलेंगी। निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से वार्ता करते हुए सीएम धामी ने कहा कि इस चुनाव को लेकर हम पूरी तरह से आश्वस्त हैं। प्रदेश की जनता भाजपा को एक बार फिर भारी बहुमत से जीत दिलाने जा रही है। बाकी सब आगामी दस मार्च को पता चल जाएगा। सीएम ने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं ने चुनाव में बेहतर काम किया है। चुनाव में हुआ मतदान इसका प्रमाण है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सब जगह हम जीत रहे हैं। किसी तरह की पार्टी में अंदरूनी गुटबाजी नहीं है। सीएम धामी ने कहा कि भाजपा का सभी जगह मेडिकल कॉलेज खोलने का संकल्प है। हरिद्वार में मेडिकल कॉलेज खोलने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। यहां पर निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया गया है। जल्द से जल्द इसका काम पूरा कर लिया जाएगा। यहां पढ़ने वाले मेडिकल के छात्रों के लिए यह कॉलेज एक मील का पत्थर साबित होगा। इसका लाभ इस क्षेत्र में रहने वाले लोगों को भी मिलेगा। अस्पताल का निर्माण कार्य तेजी से शुरू हुआ है, लेकिन इसमें भी और तेजी लाने की जरूरत है। कार्यदायी संस्था से निर्माण कार्य में तेजी लाने को कहा गया है। अगस्त 2023 तक इस कॉलेज का प्रशासनिक भवन तैयार हो जाएगा एवं 2024 तक पूरा मेडिकल कॉलेज तैयार हो जाएगा।