Breaking News
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी से मुनस्यारी, पिथौरागढ़, चम्पावत के लिए हेली सेवा का शुभारम्भ किया
  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा परिवहन विभाग के प्रस्ताव को दी गई स्वीकृति
  • पुलिस एवं परिवहन की संयुक्त टीमों द्वारा गत वर्षो में यात्रा सीजन के दौरान हुई सड़क दुर्घटनाओं का डेथ ऑडिट करने के निर्देश
  • सीएम ने उच्च शिक्षा शोध प्रोत्साहन योजना एवं शोध अनुदान वितरण का भी शुभारंभ किया
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उच्च शिक्षा विभाग के अन्तर्गत एनएसई की गौरव योजना का शुभारंभ किया

ज्ञानवापी विवाद में हिंदू पक्ष के हक में आया फैसला, मुस्लिम पक्ष जाएगा हाईकोर्ट

वाराणसी। ज्ञापवापी विवाद में जिला न्यायालय ने हिंदू पक्ष के हक में फैसला सुनाया है। जिसके बाद मुस्लिम पक्ष ने हाईकोर्ट जाने का फैसला किया है। वाराणसी की जिला अदालत के जिला न्यायाधीश एके विशेष ने आज फैसला सुनाते हुए कहा है कि ज्ञानवापी विवाद में सुनवाई जारी रहेगी। उन्होंने मुस्लिम पक्ष की याचिका को खारिज कर दिया। जिसमें सुनवाई ना किए जाने की बात कही थी। 22 सितबंर को इस मामले की अगली सुनवाई होगी। इसी बीच मुस्लिम पक्ष ने इस फैसले पर आपत्ति करते हुए हाईकोर्ट जाने के फैसला लिया है।

इस फैसले पर मुस्लिम पक्ष ने कहा है कि अदालत का आदेश उचित नहीं है और कहा कि वे इस मामले में उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा कि कानूनी विशेषज्ञों की टीम अदालत के फैसले के बारे में विस्तार से बताएगी और फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी मस्जिद मामले में पूजा के स्थान के बारे में जो कुछ भी कहा, हमें उम्मीद थी कि मंदिरों और मस्जिदों से संबंधित सभी मुद्दों का समाधान किया जाएगा. उन्होंने इस बात पर चिंता व्यक्त की कि पूजा स्थल अधिनियम 1991 को दरकिनार किया जा रहा है और ऐसे मामले उठाए जा रहे हैं.